शातिर पानवाले पर आया लेडी टीचर का दिल, पति को चिकनी-चुपड़ी बातों में बहलाती रही

शातिर पानवाले पर आया लेडी टीचर का दिल, पति को चिकनी-चुपड़ी बातों में बहलाती रही

गोरखपुर : खबर गोरखपुर से है जहां एक महिला से भी ज्यादा शातिर पानवाला निकला उसने महिला को इस्तेमाल किया फिर छोड़ दिया लेकिन इन सब के चक्कर में महिला ने अपने पति को मरवा दिया महिला एक सरकारी स्कूल में टीचर है. उसके घर और स्कूल के रास्ते मे एक पानवाले की दुकान है. महिला और पानवाले का जन्मदिन भी एक ही दिन था. महिला को लगा जन्म-जन्म का साथी मिलगया.पति ने कई बार दोनों को पकड़ा, फिर भी माफ करता रहा.गोरखपुर के निवासी विनोद शर्मा की शादी आशा शर्मा के साथ हुई थी. दोनों का हंसता-खेलता परिवार था, लेकिन, विनोद के परिवार को उसकी पत्‍नी आशा की ही नजर लग गई.मृतक की भाभी प्रमिला ने बताया कि आशा का शादी के पांच साल बाद गौना हुआ. 

उसके दो बच्चे हैं. कक्षा 7 में पढ़ने वाला 13 साल का रणवीर और कक्षा 3 में पढ़ने वाला 9 साल का अर्पित इसी बीच आशा पिपराइच के अहिरौली प्राथमिक विद्यालय में टीचर बन गई. इसके साथ ही घर में खुशहाली आ गई. लेकिन परिवारवालों को क्‍या पता था कि यही नौकरी उनके परिवार को बर्बाद कर देगी. स्‍कूल आते-जाते आशा का पिपराइच में पान बेचने वाले अनूप मोदनवाल के साथ अवैध संबंध हो गया. आशा अपने प्रेमी अनूप के प्‍यार में इस कदर पागल हो गई कि उसे किसी की परवाह नहीं रही.लेकिन अनूप शातिर था,आरोपी अनूप मोहनवाल और उसके साथी संदीप मद्धेशिया ने बताया कि आशा ने पति की हत्‍या का फुल प्रूफ प्‍लान बनाया था. 

जब विनोद बाजार से सामान लेकर घर लौट रहा था, उसी दौरान वह अपने दोस्‍त संदीप मद्धेशिया के साथ दीवार की आड़ लेकर छुप गया. इसके बाद चाकू से विनोद का गला रेतकर उसकी हत्‍या कर फरार हो गया. आरोपी ने बताया कि आशा ने सालभर पहले उससे भी शादी कर ली थी. विनोद को दोनों के ऊपर शक हो गया था. मृतक की भाभी प्रमिला शर्मा ने बताया कि व्‍यापारी पति विनोद शर्मा ने कई बार उसे रंगे हाथों पकड़ा. लेकिन अपनी शातिर अदाओं से वो पति को मना लेती. सीधा-साधा पति भी उसे माफ कर देता। यही माफी विनादे के लिए मौत बनकर आई.

Find Us on Facebook

Trending News