शहीद जवान के पैतृक गाँव में पूरे सैन्य सम्मान के साथ दी गई अंतिम विदाई, सात वर्षीय पुत्र सूरज ने पिता को दी मुखाग्नि

 शहीद जवान के पैतृक गाँव में पूरे सैन्य सम्मान के साथ दी गई अंतिम विदाई, सात वर्षीय पुत्र सूरज ने  पिता को दी मुखाग्नि

DESK: जहानाबाद जिले के लाल शहीद लवकुश का अन्तिम संस्कार पूरे सम्मान के साथ उनके पैतृक गाँव आरा में किया गया .शहीद लवकुश के सात वर्षीय पुत्र ने अपने शहीद पिता को मुख्अग्नि दी .इस दौरान पूरे गाँव के लोग मौजूद थे और सभी ने नम आँखों से शहीद जवान को अंतिम विदाई दी. इससे पूर्व पूरे राजकीय सम्मान के साथ बिहार के शिक्षा मंत्री जहानाबाद के सांसद और राजनीतिक दलों से जुड़े नेता और मौजूद लोगों ने श्रद्धांजलि दी और उन्हें नमन किया.

गौरतलब हो कि कश्मीर के बारामुला में देश का यह वीर जवान मातृभूमि की रक्षा करते हुए शहीद हो गया था और कल देर रात शहीद का पार्थिव शरीर उनके गाँव पहुँचा इस दौरान लोग इस वीर सपूत के समर्थन जमकर नारेबाजी करते हुए लवकुश शर्मा अमर रहे के नारे से गूंज रहे थे.

बता दें  कि शहीद जवान  के अन्तिमसंस्कार को लेकर जिला प्रशासन के द्वारा तैयारी की गई थी. मगध के कमिश्नर और CRPF के डीआईजी सहित डीएम एसपी के अलावा कई अधिकारी गाँव के  कैम्प में उपस्थित थे . पंचतत्त्व में विलीन होने से पूर्व सैनिक  को पूरे सम्मान के साथ शहीद जवान को गॉड ऑफ ऑनर देते हुए सलामी दी गई. इस मौके पर बिहार के शिक्षा मंत्री कृष्णनंदन वर्मा ने दुख प्रकट करते हुए कहा की शहीद जवान की शहादत को पूरा देश और जिला याद रखेगा.

वहीं उन्होंने  सरकार के तरफ से हर सम्भव सहायता करने की बात की .उन्होंने कहा कि शहीद लबकुश हमारे दिलो में हमेशा रहेंगे और उनके परिवार की मदद के लिये सरकार हमेशा उनके साथ खड़ी है.साथ हा साथ  जिले के डीएम नवीन कुमार ने शहीद जवान के परिवार को तत्काल 11लाख का चेक प्रदान किया और कहा कि  ये काफी भावुक क्षण  है . देश का वीर जवान मातृभूमि की रक्षा करते शहीद हो गया .उनके पूरे परिवार के साथ जिला प्रशासन गहरी संवेदना प्रकट करता हैऔर सरकारी स्तर से जो सहयोग होगा वह पूरा किया जायेगा ,भले ही शहीद जवान हमलोगों के बीच न हो लेकिन हमारे दिलो में हमेशा जिंदा रहेंगे.

जदानाबाद से गौरव कुमार की रिपोर्ट 

Find Us on Facebook

Trending News