समस्तीपुर में उद्योग मंत्री ने दो और प्रशिक्षण कार्यक्रमों का किया शुभारंभ, आटा फैक्ट्री का किया उद्घाटन

समस्तीपुर में उद्योग मंत्री ने दो और प्रशिक्षण कार्यक्रमों का किया शुभारंभ, आटा फैक्ट्री का किया उद्घाटन

PATNA : बिहार के उद्योग मंत्री सैयद शाहनवाज हुसैन ने शनिवार को समस्तीपुर को एक दो नहीं बल्कि कई सौगातें दी। रोसड़ा के मिर्जापुर में बंबू क्राफ्ट यानी बांस और बेंत से उत्पाद बनाने की कला के प्रशिक्षण कार्यक्रम का शुभारंभ किया तो पूसा रोड स्थित खादी ग्रामोद्योग समिति संस्था का निरीक्षण करने के साथ यहां खादी सूत कताई प्रशिक्षण कार्यक्रम की भी शुरुआत की। इसके अलावा बिहार के उद्योग मंत्री सैयद शाहनवाज हुसैन ने समस्तीपुर के खजूरी इलाके में नारायण फूड इंडस्ट्रीज की अत्याधुनिक आटा फैक्ट्री का भी उद्घाटन किया।

शुक्रवार शाम को ही समस्तीपुर पहुंचे बिहार के उद्योग मंत्री सैयद शाहनवाज हुसैन ने शनिवार सुबह से ही कार्यक्रमों की शुरुआत कर दी । सबसे पहले वो रोसड़ा के मिर्जापुर पहुंचे जहां उन्होंने केंद्र सरकार के वस्त्र मंत्रालय और बिहार के उद्योग विभाग के उपेंद्र महारथी शिल्प अनुसंधान संस्थान के द्वारा 40 लाख रुपए की लागत से तैयार वेणु शिल्प सामान्य सुविधा केंद्र का शुभारंभ किया ।  उपेंद्र महारथी शिल्प अनुसंधान संस्थान द्वारा रोसड़ा में 500 वेणु शिल्पकारों का रजिस्ट्रेशन कराया जा चुका है। सामान्य सुविधा केंद्र का शुभारंभ करते हुए बिहार के उद्योग मंत्री सैयद शाहनवाज हुसैन ने कहा कि मुझे अत्यंत प्रसन्नता हो रही है कि जो जगह मेरी बचपन की यादों से जुड़ा है वहां आज लोगों को एक बड़ा सुविधा केंद्र सौंपने जा रहा हूं। 

सामान्य सुविधा केंद्र के शुभारंभ के साथ सैयद शाहनवाज हुसैन ने मिर्जापुर में बांस और बेंत से बेहतरीन उत्पाद बनाने की कला बंबू क्राफ्ट के प्रशिक्षण कार्यक्रम की भी शुरुआत की। प्रशिक्षण कार्यक्रम की शुरुआत से पहले उन्होंने बांस और बेंत से बनी एक से एक सुंदर कलाकृतियों और उत्पादों की प्रदर्शनी भी देखी और यहां की महिलाओं, कारीगरों का काम देख कर वो इतने खुश हुए कि उन्होंने कहा कि अगली बार मेरी पत्नी भी यहां आयेंगी और यहां की महिलाओं का हुनर देखकर, उनकी हर संभव मदद की कोशिश करेंगी ।

मिर्जापुर के लोगों को संबोधित करते हुए भी उन्होंने कहा कि इस जगह से उनके बचपन की और काफी पुरानी यादें जुड़ी है। यहां की महिलाओं द्वारा बनाई गई बांस और बेंत की कलाकृतियों और उत्पादों को वो देश ही नहीं बल्कि विदेशों में भी पहुंचाने के लिए पूरी ताकत लगा देंगे । उन्होंने कहा कि रोसड़ा के मिर्जापुर की महिलाएं पूरे राज्य के लिए मिसाल हैं कि वो किस तरह बंबू क्राफ्ट का प्रशिक्षण पाकर हर महीने बढ़िया आमदनी कर रही हैं। उन्होंने कहा कि वो यहां के उत्पादों को पटना के खादी मॉल में तो रखवाएंगे ही साथ ही प्रदर्शनी, मेलों के जरिए भी राज्य और देश में इसके जबरदस्त प्रचार - प्रसार की व्यवस्था करेंगे।

रोसड़ा के बाद बिहार के उद्योग मंत्री सैयद शाहनवाज हुसैन समस्तीपुर के खजूरी इलाके में पहुंचे और वहां उन्होंने नारायण फूड इंडस्ट्रीज की अत्याधुनिक आटा फैक्ट्री का शुभारंभ किया। नारायण फूड इंडस्ट्रीज फुलकी ब्रांड नेम से पैक्ड आटा बाजारों में लेकर आई है। इस मौके पर जुटे लोगों को संबोधित करते हुए बिहार के उद्योग मंत्री ने कहा कि बिहार में उद्योगों का माहौल बन चुका है। औद्योगिक इकाइयां अब यहां स्थापित हो रही है और आने वाले दिनों में ऐसी इकाइयों की संख्या बढ़ती ही जाएगी। उन्होंने कहा कि वो प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी के शुक्रगुजार हैं कि उन्हें बिहार में औद्योगिकीकरण के बड़े मिशन की जिम्मेदारी दी गई और यकीन दिलाते हैं कि वो न सिर्फ बिहार की उम्मीदों पर खरे उतरेंगे बल्कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के भी मिशन को पूरा करके ही दम लेंगे।

समस्तीपुर में आखिरी कार्यक्रम के रूप में बिहार के उद्योग मंत्री सैयद शाहनवाज हुसैन पूसा रोड स्थित खादी ग्रामोद्योग समिति पहुंचे और वहां उन्होंने खादी सूत कताई प्रशिक्षण कार्यक्रम का शुभारंभ करने के साथ आजादी पूर्व की अत्यंत महत्वपूर्ण, इस खादी संस्था के पूरे परिसर का निरीक्षण भी किया। उन्होंने कहा आजादी के अमृत महोत्सव के अवसर पर आजादी पूर्व से खादी को बढ़ावा दे रही,  ऐतिहासिक और ग्राम स्तर पर जीविकोपार्जन का साधन उपलब्ध कराने वाली जीवनदायिनी संस्था में आने का मौका मिला यह उनका सबसे बड़ा सौभाग्य है। 

इस मौके पर लोगों को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा कि वो ऐलान करते हैं कि आजादी के अमृत महोत्सव के मौके पर खादी व हैंडलूम उत्पादों का एक मेला व प्रदर्शनी समस्तीपुर में भी लगेगा। उन्होंने कहा  कि उनका उद्योग विभाग सिर्फ बड़े बड़े उद्योगों की चिंता नहीं करेगा बल्कि खादी, हैंडलूम जैसे राज्य के पारंपरिक उद्योगों को बढ़ावा देने के लिए भी उतनी ही शिद्दत से काम करेगा। उन्होंने कहा कि मैं खादी संस्थाओं से जुड़े हुए सभी लोगों को आश्वस्त करना चाहता हूं कि उन्हें जब भी जरूरत महसूस होगी, सैयद शाहनवाज हुसैन उनके लिए खड़ा मिलेगा। उन्होंने कहा कि वो उद्योग क्षेत्र के विकास में इसका पूरा ध्यान रखेंगे कि राज्य की औद्योगिकीकरण का लाभ समाज के हर व्यक्ति तक पहुंचे।

पटना से विवेकानंद की रिपोर्ट


Find Us on Facebook

Trending News