सौरव गांगुली के बीजेपी में शामिल होने की अटकलें तेज, सवाल क्या होंगे बंगाल में सीएम का चेहरा

सौरव गांगुली के बीजेपी में शामिल होने की अटकलें तेज, सवाल क्या होंगे बंगाल में सीएम का चेहरा

डेस्क। बीसीसीआई के अध्यक्ष और टीम इंडिया के पूर्व कप्तान सौरव गांगुली आगामी विधानसभा चुनाव से अपनी राजनीतिक पारी शुरू कर सकते हैं। बंगाल में इस बात का कयास लगाया जा रहा है कि गांगुली भाजपा में शामिल हो सकते हैं। हालांकि अभी इस पर अभी औपचारिक रूप से कोई घोषणा नहीं हुई है। लेकिन अगर गांगुली भाजपा का हिस्सा बनते हैं तो सवाल यह है कि क्या पार्टी उन्हें बंगाल में अपना सीएम प्रोजेक्ट करेगी।

सौरव गांगुली पश्चिम बंगाल में बड़ा नाम है। उनकी लोकप्रियता ममता बनर्जी के बराबर है। वहीं गृह मंत्री अमित शाह इस बात की घोषणा कर चुके हैं कि अगर भाजपा को बंगाल में बहुमत मिलता है, तो सीएम इसी राज्य से चुना जाएगा। लेकिन परेशानी यह है बंगाल में भाजपा के पास ऐसा कोई चेहरा नहीं है, जिनके भरोसे वह चुनाव में जीत हासिल कर सके। सिर्फ गांगुली का नाम ही ऐसा है, जिन पर भाजपा यह दांव खेल सकती है। इस संभावना को लेकर इसलिए भी चर्चा हो रही है क्योंकि गांगुली बीसीसीआई के अध्यक्ष हैं, वहीं उनके साथ अमित शाह के बेटे जय शाह सहयोगी के तौर पर काम करते हैं। गांगुली और जय शाह के बीच अच्छी दोस्ती भी है। 

इसलिए हो रही है चर्चा

दरअसल, सौरव गांगुली के बीजेपी में शामिल होने की चर्चा तब उठी, जब रविवार को गांगुली प्रदेश के राज्यपाल जगदीप धनखड़ से मुलाकात करने के लिए पहुंचे थे। हालांकि गांगुली और राजभवन की तरफ से इस औपचारिक मुलाकात बताया गया। राजभवन की तरफ से कहा गया कि गांगुली ने उन्हें देश के सबसे पुराने क्रिकेट ग्राउंड ईडन गार्डन का दौरा करने का आमंत्रण दिया है, जिसे  राज्यपाल ने स्वीकार कर लिया है। गांगुली की इस मुलाकात के बाद प्रदेश के सियासी गलियारों में कानाफूसी भी तेज हो गई है।



Find Us on Facebook

Trending News