विद्यालय प्रधान और शिक्षक खेल एवं योग बच्चों की दिनचर्या में शामिल करें: किरण कुमारी

विद्यालय प्रधान और शिक्षक खेल एवं योग बच्चों की दिनचर्या में शामिल करें: किरण कुमारी

PATNA : विद्यालय प्रधान एवं शिक्षक खेल एवं योग को बच्चों की दिनचर्या में शामिल करें। ये  बातें बिहार शिक्षा परियोजना परिषद की अपर राज्य परियोजना निदेशक किरण कुमारी ने बिहार शिक्षा परियोजना परिषद द्वारा यूनिसेफ के सहयोग से 7 से 27 जुलाई तक चल रहे राज्य के माध्यमिक व उच्च माध्यमिक विद्यालयों के 300 शारीरिक शिक्षकों के लिए शारीरिक शिक्षा,योग एवं खेल के विशेष प्रशिक्षण कार्यक्रम के पांचवें बैच के प्रशिक्षण समापन समारोह के अवसर पर कहीं।


पाटलिपुत्र स्पोर्ट्स कांप्लेक्स में पांचवें बैच के प्रशिक्षणार्थियों को प्रमाणपत्र वितरित करने पहुंची किरण कुमारी ने कहा कि बच्चों को स्कूल फ्रेंडली बनाने के साथ साथ स्वस्थ रखने में खेल एवं योग का महत्वपूर्ण योगदान है। उन्होंने कहा कि राज्य में माध्यमिक एवं उच्च माध्यमिक विद्यालयों की तुलना में शारीरिक शिक्षा शिक्षकों की संख्या काफी कम है। ऐसे में विद्यालय प्रधान एवं अन्य विषयों के सभी शिक्षकों का भी दायित्व है कि विद्यालय में खेल एवं योग बच्चों की दिनचर्या में शामिल करने का प्रयास करें ताकि बच्चों का सर्वांगीण विकास हो।

प्रशिक्षण कार्यक्रम के अन्त में शिक्षा विभाग के अपर मुख्य सचिव दीपक कुमार सिंह द्वारा उनके अपने अनुभवों पर तैयार किए गए प्रेजेंटेशन हेल्दी लाइफ : हू डजंट वांट्स इट प्रस्तुत किया गया। जिसमें बताया गया कि कैसे अपने अनुशासित जीवन शैली व दिनचर्या से हम सभी विभिन्न प्रकार की बीमारियों से बच सकते हैं और स्वस्थ जीवन पा सकते हैं।

प्रशिक्षण कार्यक्रम के प्रशिक्षक अभिषेक कुमार एनआईएस एथलेटिक्स कोच सह शारीरिक शिक्षा शिक्षक बापू स्मारक महिला उच्च विद्यालय ने कार्यक्रम का संचालन एवं सबों का स्वागत किया। 21 से 27 जूलाई तक चले पांचवें बैच के प्रशिक्षण में नालंदा, नवादा, रोहतास, पटना, सुपौल, मुजफ्फरपुर, पूर्णिया एवं सीवान जिला के माध्यमिक एवं उच्च माध्यमिक विद्यालयों के 50 शारीरिक शिक्षा शिक्षक भाग लिया। कार्यक्रम में बीईपी की एसपीओ अभिलाषा झा, यूनिसेफ कंसल्टेंट धर्मवीर कुमार, निशांत कुमार, प्रशिक्षक डब्लू कुमार एवं मृ्त्युंजय कुमार , नीरज कुमार भी मौजूद थे।

Find Us on Facebook

Trending News