सुपौल में जिला परिषद प्रत्याशी शबाना खातुन का वादा, भ्रष्टाचार को खत्म करना है

सुपौल में जिला परिषद प्रत्याशी शबाना खातुन का वादा, भ्रष्टाचार को खत्म करना है

SUPAUL : जिले के त्रिवेणीगंज क्षेत्र संख्या 24 से जिला परिषद प्रत्याशी शबाना खातुन पति पप्पू आलम आम जनता के बीच कई मुद्दों को लेकर जनता से मिल रही है. उन्होंने बताया की हमारे जिला परिषद क्षेत्र संख्या में सरकार के योजना का लाभ जनता तक नहीं पहुंच रहा है. बहुत लोग पहचानते तक नही है कि मेरा क्षेत्र का जिला परिषद कौन  है. उन्होंने बताया कि सरकार के योजना का लाभ धरातल पर नही बल्कि  कागज पर ही सिमट जाती है. उन्होंने कहा बहुत लोग चुनाव जीतना ही अपनी भागीदारी समझते हैं. चुनाव जीतने के बाद कभी जनता को उलट कर देखते तक नही हैं कि जनता किस हाल में है. आम जनता को जात धर्म और लोभ में फंसा कर कर बोट लेते है. जीतने के बाद जनता को भुल जाते हैं. 

उन्होंने कहा की मैं चुनाव मैदान नही आना चाहती थी. लेकिन आम जनता की मजबूरी देखकर मुझे चुनाव मैदान में आना पड़ा. सरकार के इतना पैसा खर्चा करने के बाबजूद गरीब परिवार लाभ से वंचित है. मेरा चुनाव मैदान में आने का एक ही मकसद है की गरीब, किसान एवं हर धर्म के लोगों को अपना हक मिले. उन्होंने कहा की आज हमारे समाज में गरीब परिवार 60 साल से अधिक होने के बावजूद बृद्धा पेंशन से वंचित है. आवास नही मिल रहा. किसानों भाई किसान सम्मान निधि योजना से वंचित है. किसान को पटवन के लिए मीटर नही उपल्ब्ध नही है. किसान को पम्पिंग सेट से वंजित रखा गया है. हमारे माँ बहनो को योजना का लाभ नही मिल रहा है. ऐसी कई योजनाएं हैं जो लोगो पता तक नही है. चुनाव जीतने के बाद प्रतिनिधि जनता की सुध तक नही लेते हैं. उन्होंने आम जनता से अपील की है. 

उन्होंने कहा की एक बार सेवा करने की मौका दे. मेरा चुनाव में आना सिर्फ जीत कर पैसा कमाना या शौक नही है. बल्कि भ्रष्ट व्यवस्था और आम लोगों की अपनी हक मिले. यही मेरी लिए शौक है, मजबूरी में फैसला लिया है.  त्रिवेणीगंज जिला परिषद क्षेत्र संख्या 24 की तस्वीर बदलना चाहती हूं. आप किसी भी कार्य के लिए जाते हैं तो सर्वप्रथम आपको रिश्वत (घुस) देना पड़ता है. बिना घुस का ना तो प्रधानमंत्री आवास योजना और न ही  बृद्धा पेंशन /विधवा पेंशन/ शौचालय/ पशु-सैड कई प्रकार के मूलभूत सुविधाओं से वंचित रह जाते हैं. मुझे इस घूसखोरी को समाप्त करना है. 

सुपौल संवाददाता से पप्पू आलम की रिपोर्ट


Find Us on Facebook

Trending News