बिहार पुलिस का बेशर्म मुंशी! रिश्वत न ले तो फिर काहे की पुलिस की नौकरी ? निलंबन मुक्त होकर फिर से घूस का धंधा कर देता है शुरू

बिहार पुलिस का बेशर्म मुंशी! रिश्वत न ले तो फिर काहे की पुलिस की नौकरी ? निलंबन मुक्त होकर फिर से घूस का धंधा कर देता है शुरू

DESK: बिहार पुलिस में ऐसे भी कर्मी हैं जो पैसे के लिए कुछ भी कर सकते हैं.वरीय अधिकारी सस्पेंड करें या बर्खास्त लेकिन वो रिश्वत लेना नहीं छोड़ेगा। शायद वो इस सिद्धांत पर चलता है कि पुलिस अगर रिश्वत न ले तो फिर काहे की पुलिस की नौकरी ? बेशर्म पुलिस के एक मुंशी के रिश्वत वाली स्टोरी सुन आप चकरा जायेंगे। वो हमेशा रिश्वत के लिए नौकरी को दांव पर लगा देता है। हालांकि रिश्वत के चक्कर में वो कई दफे फंस भी चुका है,फिर भी वो नहीं मान रहा।

 रिश्वत लेने में तीन बार हो चुका है निलंबित 

मामला मुजफ्फरपुर का है जहां का एक मुंशी काफी चर्चे में है. बिहार पुलिस का जवान और थाने का मुंशी बीके सिंह के घूसखोरी के चर्चे आम हैं. इस बार फिर से रिश्वत के चक्कर में निलंबित हो गए। आईजी गणेश कुमार ने बेशर्म मुंशी को निलंबित कर दिया है।इसके साथ ही विभागीय कार्रवाई चलाने का भी आदेश दिया है।हालां कि निलंबन की ये कार्रवाई कोई पहली बार नहीं बल्कि कुछ सालों के दौरान मुंशी बीके सिंह तीन बार निलंबित हो चुके हैं। 

सबसे पहले कुढ़नी थाने में रिश्वत लेने का वीडियो वायरल हुआ था।इसके बाद एसपी ने निलंबित कर दिया. फिर कुछ माह बाद नगर थाना में इनकी तैनाती हुई। करीब छह माह कार्य करने के बाद फिर से रिश्वत लेने के आरोप में निलंबित हुए। कुछ दिनों से ब्रह्मपुरा में मुंशी के पद पर तैनात थे। लघु सिंचाई विभाग के लिपिक सुनील कुमार की बाइक जूरनछपरा से चोरी हुई थी।रिश्वत मांगा इसके बाद फिर से निलंबित हो गये। 


Find Us on Facebook

Trending News