शिक्षकों के हितों के लिए हमेशा काम करेंगे : केदारनाथ पाण्डेय

शिक्षकों के हितों के लिए हमेशा काम करेंगे : केदारनाथ पाण्डेय

PATNA : सारण शिक्षक निर्वाचन क्षेत्र के प्रत्याशी केदारनाथ पाण्डेय ने आज बताया कि सारण शिक्षक निर्वाचन क्षेत्र से चौथी बार एक अक्टूबर 2020 को 12 बजे नामांकन दाखिल करूँगा. उन्होंने कहा की मैं 06 मई 2002 से लगातार इस क्षेत्र का प्रतिनिधित्व कर रहा हूँ. प्रत्येक कोटि के शिक्षकों की समस्याओं का मुस्तैदी से समाधान करने की कोशिश की है. 

उन्होंने पिछले छः वर्षों के कार्यों का लेखा – जोखा प्रस्तुत करते हुए बताया कि स्थानीय निकाय एवं पंचायतीराज संस्थाओं के शिक्षकों की सेवा शर्त नियमावली अधिसूचित, कर्मचारी भविष्य निधि योजना लागू, महिलाओं को 180 दिनों का मातृत्व अवकाश, प्रधानाध्यापक पद पर प्रोन्नति की सुविधा, स्थानांतरण की सुविधा, नियमित शिक्षकों के लिए एमएसीपीएस का लाभ मिला. प्रधानाध्यापक के पद पर लगभग 800 शिक्षकों की सीधी नियुक्ति. 5000 प्रधानाध्यापकों की प्रोन्नति. वित्त रहित संस्थाओं के लिए वित्त अनुदानित विद्यालयों में 50 लाख से ऊपर अनुदान के भुगतान से सीलिंग समाप्त. वित्त अनुदानित विद्यालयों में ईपीएफ का प्रावधान. वित्त रहित संस्थाओं में शासी निकाय प्रबंध समिति के गठन हेतु नई नियमावली लागू कराना. मदरसा संस्कृत विद्यालयों एवं अल्पसंख्यक संस्थाओं के लिए मदरसों में सातवां वेतनमान. नए मदरसों की प्रस्वीकृति. मदरसों में ईपीएफ योजना लागू. भविष्य निधि पेंशन. 700000 की बीमा की सुविधा. 814 कोटी के मदरसों में नियोजित शिक्षकों को वेतनमान. अल्पसंख्यक माध्यमिक विद्यालयों में सातवां वेतनमान एवं प्लस टू शिक्षा व्यवस्था लागू कराना इत्यादि कार्यों का निष्पादन मेरे द्वारा किया गया. 

साथ ही उन्होंने संबोधन में बताया कि केंद्र सरकार द्वारा नयी शिक्षा नीति लागू की जा रही है. उसमें शिक्षकों की नयी भूमिका निर्धारित की जा रही है. जिस पर शिक्षकों को एकजुट कर गंभीर आंदोलन की आवश्यकता से इनकार नहीं किया जा सकता. 

उन्होंने कहा की अपने अठारह वर्षों के कार्यकाल में और बिहार माध्यमिक शिक्षक संध के महासचिव और अध्यक्ष की हैसियत से शिक्षकों की सेवा पूर्णकालिक रूप से की है. प्रायः प्रत्येक विद्यालय, मदरसा, संस्कृत विद्यालय, वित्त सम्पोषित विद्यालय, महाविद्यालय एवं अंगीभूत काँलेजों में मुख्यमंत्री क्षेत्र विकास योजना से भी काम दिया है. इस अवसर पर मुख्य रूप से चुल्हन प्रसाद सिंह, विद्यासागर विद्यार्थी, चंद्रमा सिंह, नागेंद्र सिंह, कृपा नंद पाण्डेय, राजेंद्र सिंह इत्यादि उपस्थित थे.



Find Us on Facebook

Trending News