राज्य सरकार का बड़ा फैसला: अब मंत्री विधायकों के वेतन में 30 फीसदी की होगी कटौती, 50 फीसदी काटने की गई थी मांग

राज्य सरकार का बड़ा फैसला: अब मंत्री विधायकों के वेतन में 30 फीसदी की होगी कटौती, 50 फीसदी काटने की गई थी मांग

Desk: कोरोना संकट से लड़ने के लिए अब विधायकों के वेतन में 30 फिसदी की कटौती को मंजूरी मिल गई है. हिमाचल प्रदेश विधानसभा के मॉनसून सत्र में इससे जुड़ा बिल पारित हो गया है. हालांकि, बिल में मांग की गई थी, 50 फीसदी वेतन काटा जाए, लेकिन 30 फीसदी वेतन को काटने को मंजूरी दी गई है.

जानकारी के अनुसार, शुक्रवार को विधानसभा के मानसून सत्र के पांचवें दिन सदन में चर्चा के बाद 30 फीसदी वेतन कटौती का बिल पारित हुआ. सदन में नादौन से कांग्रेस विधायक सुखविंद्र सिंह सुक्खू ने बिल में संशोधन का प्रस्ताव रखा. उन्होंने मांग की कि वेतन से कटौती 30 फीसदी से बढ़ाकर 50 प्रतिशत की जाए. उनकी इस मांग का माकपा विधायक राकेश सिंघा ने भी समर्थन किया. साथ ही बिल को सेलेक्ट कमेटी को भेजने की भी मांग उठी. हालांकि, कुछ विधायकों ने इस पर आपत्ति भी की. 

सीएम जयराम ठाकुर ने कहा कि बिल को सेलेक्ट कमेटी को भेजा जा सकता है और विधायक अपनी इच्छा के अनुसार, ज्यादा वेतन भी कटवा सकते हैं. बाद में सीएम ने बिल पारित करने का प्रस्ताव रखा और फिर यह ध्वनिमत से पारित हो गया. चर्चा के दौरान कांग्रेस विधायक सुक्खू ने कहा कि किसी भी कांग्रेस के विधायक ने वेतन वापस लेने की बात नहीं की. केवल विधायक निधि को लेकर बातें कही गई हैं. उन्होंने कहा कि बार-बार वेतन का मामले लाने से भी जनता में गलत संदेश जाता है.

Find Us on Facebook

Trending News