आनंद किशोर ने स्मार्ट सिटी के पदाधिकारियों के साथ की बैठक, चार माह में कार्य पूरा करने के निर्देश

आनंद किशोर ने स्मार्ट सिटी के पदाधिकारियों के साथ की बैठक, चार माह में कार्य पूरा करने के निर्देश

PATNA : अब दो माह में राज्य के सभी स्मार्ट सिटी के 70 फीसदी कार्य को शुरू करने का लक्ष्य तय किया गया है। वहीं चार माह में स्मार्ट सिटी के 100 फीसदी कार्य मूर्त रूप में दिखायी देने लगेंगे। छह माह के अंदर मुजफ्फरपुर को 94 वें रैंक से टॉप 50 स्मार्ट सिटी की सूची में शामिल करने का लक्ष्य रखा गया है। उपरोक्त निर्देश आनंद किशोर, अध्यक्ष, बोर्ड आफ डायरेक्टर्स, मुजफफरपुर स्मार्ट सिटी लिमिटेड सह प्रधान सचिव नगर विकास एवं आवास विभाग ने स्मार्ट सिटी के पदाधिकारियों को दिया है। नगर विकास एवं आवास विभाग के सभागार में आयोजित हुई बैठक में आनंद किशोर ने अधिकारियों को मुजफ्फरपुर स्मार्ट सिटी के एरिया बेस्ड डेवलपमेंट के विस्तार, मल्टीलेवल कार पार्किंग, सिटी पार्क-जुब्बा साहनी पार्क सहित शहर के पार्कों को स्मार्ट बनाने, वहां लाइट, साउंड और लेजर शो शुरू करने, मुजफफरपुर शहर में 25 से अधिक मॉडयूलर बायो टवायलेटस का निर्माण करने, पब्लिक बाइ साइकिल शेयरिंग सहित अन्य बेहतर नगरीय सुविधाओं के अविलंब विस्तार के निदेश दिए।  

बैठक में स्मार्ट सिटी के बोर्ड ऑफ डायरेक्टर्स के अध्यक्ष सह प्रधान सचिव नगर विकास एवं आवास विभाग आनंद किशोर ने कहा कि मुजफफरपुर में वर्तमान लाइब्रेरी को डिजिटल लाइब्रेरी में परिवर्तित किया जाएगा। जिसका इस्तेमाल स्टेट रिसोर्स सेटर के रूप में किया जाएगा। वहां डिजिटली दुर्लभ पुस्तकों का संग्रह किया जा सकेगा। इसमें नॉलेज, न्यूज और इंटरटेनमेंट आदि से संबंधित दुर्लभ पुस्तकें, जर्नल्स, अखबार आदि का संग्रह किया जाएगा। जिसका लाभ पूरे बिहार के विद्यार्थी एवं आम जनता उठा सकेंगे। इस संबंध में उन्होंने पदाधिकारियों को एक प्रजेंटेशन देने के लिए कहा है।  

इसके पूर्व दो दिनों के अंदर पटना स्मार्ट सिटी लिमिटेड और बिहारशरीफ स्मार्ट सिटी लिमिटेड की बैठक स्मार्ट सिटी के बोर्ड ऑफ डायरेक्टर्स के अध्यक्ष सह प्रधान सचिव नगर विकास एवं आवास विभाग आनंद किशोर ने की और वहां भी दो माह के अंदर 70 फीसदी काम को शुरू करने के निदेश दिए। उन्होंने कहा कि सभी स्मार्ट सिटी की रैकिंग में आमूलचूल सुधार लाने के लिए पदाधिकारी लगातार काम करें। किसी प्रकार की कोताही बर्दास्त नहीं की जाएगी। यह भी निर्देश दिया कि चार महीनों के अंदर सभी स्मार्ट सिटी के सभी कार्यों को सौ फीसदी शुरू करने का लक्ष्य रखा जाए, इसके लिए युद्धस्तर पर सभी प्रकार की कार्रवाई की जाए। सभी स्मार्ट सिटी में जो भी महत्वपूर्ण पद खाली है, उनको अविलंब भरा जाएगा। पटना स्मार्ट सिटी में दस दिनों के अंदर सीइओ (मुख्य कार्यपालक पदाधिकारी) के पद पर नियुक्ति की जाए। 

बैठक में मुजफ्फरपुर स्मार्ट सिटी के बोर्ड ऑफ डायरेक्टर्स के अध्यक्ष सह प्रधान सचिव नगर विकास एवं आवास विभाग आनंद किशोर ने कई अहम निर्देश दिए, जिसमें कहा गया की इंटिग्रेटेड कंट्रोल एंड कमांड सेंटर के भवन का वर्क आर्डर इसी सप्ताह में जारी होगा। मल्टीलेवल कार पार्किंग और स्मार्ट पार्किंग के साथ शॉप मार्ट के निर्माण की प्रक्रिया शुरू होगी। पब्लिक बाइसाइकिल शेयरिंग का टेंडर अगले सप्ताह जारी होगा। पदाधिकारी स्पोर्टस स्टेडियम और डिजिटल लाइब्रेरी निर्माण सहित महत्वपूर्ण योजनाओं का प्रेजेंटेशन देंगे। एबीडी क्षेत्र के सभी चौक-चौराहों को सुंदर एवं स्मार्ट बनाया जाए। एबीडी एरिया का विस्तार किया जाएगा। बैरिया बस स्टैंड को आधुनिक रूप में विकसित किया जाएगा। सिकंदरपुर तालाब में आकर्षक लेजर शो एवं लाइट व साउंड शो शुरू करने हेतु कार्रवाई की जाए।

पटना से विवेकानंद की रिपोर्ट

Find Us on Facebook

Trending News