तो क्या कॉलगर्ल को अपने कमरे में बुलाते थे डीएसपी साहब, डीआईजी लांडे के सामने सप्लायर ने लगा दिया बड़ा आरोप

तो क्या कॉलगर्ल को अपने कमरे में बुलाते थे डीएसपी साहब, डीआईजी लांडे के सामने सप्लायर ने लगा दिया बड़ा आरोप

DESK : लड़कियों की सप्लाई करनेवाली एक महिला ने मधेपुरा जिले के एसपी का प्रभार संभाल रहे डीएसपी को लेकर बड़ा बयान दिया है। जिसमें महिला यह कहती  हुई नजर आ रही है कि मधेपुरा में कई पुलिस अधिकारियों को लड़कियों की सप्लाई करती रही है। इसमें जिले के पुलिस अधीक्षक के प्रभारी डीएसपी भी शामिल हैं। फिलहाल, महिला को सहरसा पुलिस ने पकड़ लिया है और उसे डीआईजी ऑफिस में पूछताछ की गई है। 

इसी पूछताछ का वीडियो सामने आया है। वीडियो में महिला ने दावा किया है कि मधेपुरा सदर अस्पताल के सामने डीएसपी मुख्यालय के आवास पर उसने एक लड़की को भेजा था। जब साहब ने रुपए कम दिए तो उसी लड़की ने मधेपुरा SP का मोबाइल चोरी किया और उसे दे दिया।

क्या है पूरी कहानी

बताया जा रहा है कि मधेपुरा एसपी राजेश कुमार 25 से 31 अगस्त तक छुट्टी पर गए थे। इस दौरा मुख्यालय डीएसपी अमरकांत चौबे को एसपी का चार्ज मिला था। इसी बीच साहब के द्वारा एक कॉलगर्ल को अपने आवास पर बुलाया गया था। रुपए नहीं मिलने से वह तकिये के नीचे रखा मोबाइल ही लेकर चली गई।

डीआईजी लांडे के सामने ऐसे खुला राज

डीएसपी की करतूत का खुलासा तब हुए, जब डीआईजी शिवदीप लांडे ने उन्हें कॉल किया, लेकिन कॉल करने पर डीएसपी अमरकांत चौबे का मोबाइल स्विच ऑफ मिला। उसके बाद एसपी का मोबाइल डीआईजी की सर्विलांस पर डाल दिया गया। मोबाइल का लोकेशन सहरसा में देख डीआईजी भी सकते में आ गए। इसके बाद कार्रवाई करते हुए सहरसा से मोबाइल बरामद किया गया और महिला को भी पूछताछ के लिए लाया गया।

पुलिसवाले बुलाते हैं लड़कियों को

महिला का दावा है कि वह और भी पुलिस अधिकारियों को लड़कियों की सप्लाई करती रही है। वह यहां चार बार लड़की भेज चुकी है। रेट का खुलासा करते हुए उसने कहा कि 300 रुपए प्रति घंटे के दर पर वह साहब के यहां लड़की भेजती थी। अधिक देर रखने पर 500 रुपए देने की बात की थी। लेकिन कई बार काम करने के बाद भी पैसा नहीं दिए जाने के कारण लड़की ने मोबाइल चुरा लिया।

महिला ने बताया कि पहले हमें कॉल आता था तो हम लड़कियों को पहुंचाते थे। अब हम ये सब छोड़ दिए हैं। अब इस वीडियो के सामने आने से पुलिस महकमे में हड़कंप मचा हुआ है।

साहब की हरकतों की जिले में चर्चा

हालांकि, अब इस वीडियो के बारे में पुलिस का कोई अधिकारी कुछ भी बोलने से बच रहा है। इस संबंध में DSP का पक्ष जानने के लिए उन्हें फोन किया गया लेकिन उन्होंने कॉल नहीं उठाया। वहीं मधेपुरा एसपी राजेश कुमार का कहना है कि वे छुट्टी से वापस आए हैं, उन्हें इस बारे में अभी कुछ पता नहीं है।


Find Us on Facebook

Trending News