...तो सचिवालय में डंप हो गई चिट्ठी? शिक्षा विभाग के दो अफसर लड़े तो हुआ था बड़ा खुलासा, दो महीने बाद भी न DEO पर एक्शन और न 'लिपिक ब्रदर्स' पर

...तो सचिवालय में डंप हो गई चिट्ठी? शिक्षा विभाग के दो अफसर लड़े तो हुआ था बड़ा खुलासा, दो महीने बाद भी न DEO पर एक्शन और न 'लिपिक ब्रदर्स' पर

 PATNA: शिक्षा विभाग के दो अफसर आपस में भिड़े हुए हैं. एक अधिकारी ने अपने से छोटे अधिकारी के खिलाफ कार्रवाई को लेकर शिक्षा विभाग को पत्र लिखा । वहीं जूनियर अफसर ने अपनी सीनियर के दो खास लिपिक ब्रदर्स के खिलाफ कार्रवाई की अनुशंसा की. दोनों पत्र सचिवालय में है। हालांकि 2 महीना होने के बाद भी अब तक किसी पर कोई कार्रवाई नहीं की गई है। अब बड़ा सवाल यह उठ रहा कि सचिवालय में आरोपों के पुलिंदा वाली चिट्ठी को दबा तो नहीं दी गई? 

...तो सचिवालय में डंप हो गई चिट्ठी

मोतिहारी के जिला शिक्षा पदाधिकारी और मुजफ्फरपुर के क्षेत्रीय शिक्षा उप निदेशक इन दिनों काफी चर्चा में हैं। चर्चा हो भी क्यों नहीं। दोनों एक-दूसरे खिलाफ सार्वजनिक तौर पर मोर्चा खोले हुए हैं। मोतिहारी के डीईओ संजय कुमार ने मुजफ्फरपुर के आरडीडीई कार्यालय को कटघरे में खड़ा करते हुए इनके दो खास लिपिक ब्रदर्स के खिलाफ कार्रवाई की सिफारिश की। मोतिहारी डीईओ ने इस संबंध में 12 मई को शिक्षा विभाग के निदेशक और अपर मुख्य सचिव को पत्र लिखा था। डीईओ ने लिपिक ब्रदर्स पर कार्रवाई व जबरन रिटाय़रमेंट की अनुशंसा की थी। इसके बाद मुजफ्फरपुर के क्षेत्रीय शिक्षा उप निदेशक जीवेन्द्र झा ने मोतिहारी के जिला शिक्षा पदाधिकारी के खिलाफ प्रपत्र-क गठित कर अनुशासनिक कार्रवाई की सिफारिश की थी। इस संबंध में आरडीडीई ने 9 जून को पत्र लिखा था। दोनों पत्र सचिवालय में धूल फांक रहा है।

जिला शिक्षा पदाधिकारी पर प्रपत्र-क गठित 

मोतिहारी के डीईओ संजय कुमार के खिलाफ प्रपत्र-क गठित कर विभागीय कार्यवाही की अनुशंसा की गई है। मुजफ्फरपुर के क्षेत्रीय शिक्षा उपनिदेशक जीवेन्द्र झा ने निदेशक प्रशासन सह अपर सचिव को प्रपत्र-क गठित कर रिपोर्ट भेज दिया.अब विभाग के स्तर से विभागीय अनुशासनिक कार्रवाई का संचालन किया जाना है।लेकिन जो जानकारी है उसके अनुसार अब तक इस मामले में आगे की कोई कार्रवाई नहीं हुई है। मुजफ्फरपुर के क्षेत्रीय शिक्षा उपनिदेशक के 9 जून के पत्र में कहा गया है कि मोतिहारी के जिला शिक्षा पदाधिकारी संजय कुमार के विरुद्ध अवैध, अनियमित कार्य एवं अन्य आरोपों हैं. इस पर 31 मई 2022 को उनसे स्पष्टीकरण की मांग की गई। साथ ही उस पत्र की जानकारी निदेशक प्रशासन को भी भेजी गई थी। जिला शिक्षा पदाधिकारी मोतिहारी संजय कुमार ने 4 जून 2022 को अपना स्पष्टीकरण समर्पित किया, लेकिन वह संतोषजनक नहीं था। 

मोतिहारी डीईओ पर 9 गंभीर आरोप 

मुजफ्फरपुर के आरडीडीई ने विभाग को लिखे पत्र में कहा है कि मोतिहारी के जिला शिक्षा पदाधिकारी संजय कुमार के विरुद्ध प्राप्त साक्ष्य सहित आरोपों में आरोप पत्र प्रपत्र-क गठित कर इनके विरुद्ध विभागीय अनुशासनिक कार्यवाही संचालन के लिए भेजा जा रहा है. मुजफ्फरपुर के क्षेत्रीय शिक्षा उपनिदेशक ने 9 बिंदु पर बजाप्ता आरोप लगाकर विभाग को समर्पित किया है. जिसमें बड़े पैमाने पर शिक्षकों को प्रति नियोजित करना, जो नियम विरुद्ध है. निरीक्षण के क्रम में संबंधित संचिका मांगे जाने पर प्रस्तुत नहीं करना. एमडीएम योजना, स्वरचित पुस्तक को जबरन बेचा जाना समेत कई अन्य गंभीर आरोप हैं.

आरडीडीई के खास लिपिक ब्रदर्स पर भी अब तक कोई कार्रवाई नहीं

 मोतिहारी के डीईओ ने मोतिहारी डीईओ दफ्तर और आरडीडीई दफ्तर मुजफ्फरपुर में तैनात लिपिक ब्रदर्स सत्येन्द्र मिश्र और गुड्डू मिश्र के खिलाफ कार्रवाई करने की सिफारिशि की थी. डीईओ संजय कुमार ने पत्र में उल्लेख किया है कि 16 अप्रैल 2022 को कार्यहित में सत्येंद्र मिश्र सहित कुछ अन्य का संभाग परिवर्तन किया गया था। लंबे समय से एक ही संभाग में कार्यरत लिपिक सत्येंद्र मिश्र द्वारा हमारे आदेश की अवहेलना की गई। साथ ही अपने पुत्र के माध्यम से मंत्री बिहार सरकार से आवेदन क्षेत्रीय शिक्षा उपनिदेशक तिरहुत को दिलाया गया. वहां पर पदस्थापित सत्येंद्र मिश्र के भाई विनय कुमार मिश्र उर्फ गुड्डू मित्र जो इनके हर गतिविधि के संरक्षणदाता है. उनके द्वारा आरडीडीई मुजफ्फरपुर को प्रभावित करा कर सत्येंद्र मिश्र को पूर्व की आवंटित स्थापना प्रभाग में बने रहने का निर्देश दिया गया. हमने 30 अप्रैल 2022 को क्षेत्रीय शिक्षा उपनिदेशक मुजफ्फरपुर को पत्र भेजकर कहा कि मंत्री बिहार सरकार को परिस्थितियों से अवगत कराई जाये । कार्यालय में किए जा रहे हैं शैक्षणिक व प्रशासनिक व्यवस्था सुधार की जानकारी मंत्री जी को दिये जाने का अनुरोध किया। लेकिन ऐसा नहीं किया गया। 

मोतिहारी के जिला शिक्षा पदाधिकारी संजय कुमार ने 12 मई को शिक्षा विभाग के निदेशक के साथ-साथ विभाग के अपर मुख्य सचिव को पत्र लिखा। पत्र में लिपिक ब्रदर्स डीईओ दफ्तर के प्रधान सहायक सत्येन्द्र मिश्र व आरडीडीई मुजफ्फरफुर कार्यालय के प्रधान लिपिक विनय कुमार मिश्र उर्फ गुड्डू मिश्र के खिलाफ कार्रवाई करने का आग्रह किया।उन्होंने अपने दफ्तर में तैनात प्रधान लिपिक सत्येन्द्र मिश्र को जबरन रिटायर करने का आग्रह किया है। वहीं आरडीडीई कार्यालय में तैनात लिपिक विनय मिश्र का स्थानांतरण करने को लेकर पत्र लिखा। 

Find Us on Facebook

Trending News