SOLAR ECLIPSE 2021: 10 जून को है सूर्यग्रहण, आसमान में दिखेगा दुर्लभ नजारा, जानें इससे जुड़ी हर जरूरी बात

SOLAR ECLIPSE 2021: 10 जून को है सूर्यग्रहण, आसमान में दिखेगा दुर्लभ नजारा, जानें इससे जुड़ी हर जरूरी बात

DESK: गुरुवार, 10 जून को साल का पहला सूर्य ग्रहण लगने वाला है। यह पूर्ण सूर्य ग्रहण होगा, जिसमें चंद्रमा पूरी तरह से पृथ्वी को ढक लेगा। पूर्ण सूर्य ग्रहण होने की वजह से दिन में अंधेरा छा जाएगा। ऐसे में सूर्य की केवल बाहरी परत ही नजर आएगी। यह ‘रिंग ऑफ फायर’ के रूप में नजर आएगा, जो बेहद ही दुर्लभ नजारा होता है। हालांकि यहां सबसे महत्वपूर्ण बात यह है कि भारत में यह ग्रहण आंशिक रूप से ही रहेगा, इसलिए भारत में यह ग्रहण मान्य नहीं रहेगा।

आपको बता दें, इस साल 2 चंद्रग्रहण और 2 सूर्यग्रहण देखने को मिलेंगे। 26 मई को साल का पहला चंद्रग्रहण था। इस दौरान कई जगहों पर सुपर ब्लडमून भी देखा गया। सूर्यग्रहण 10 जून को होने वाला है। साल का पहला सूर्य ग्रहण दोपहर 1 बजकर 42 मिनट से शुरू होकर शाम के 6 बजकर 41 मिनट तक रहेगा। भारत में लोग इस ग्रहण को नहीं देख पाएंगे। उत्तरी अमेरिका, यूरोप और एशिया में ये सूर्यग्रहण आंशिक रूप से नजर आएगा। वहीं उत्तरी कनाडा, ग्रीनलैंड और रूस में पूर्ण रूप से दिखाई देगा। जब सूर्यग्रहण पीक पर होगा तब ग्रीनलैंड के लोगों को रिंग ऑफ फायर भी नजर आ सकती है। इस बार भारत में ग्रहण का प्रभाव नहीं दिखेगा। अगर भारत में यह सूर्यग्रहण दिखाई देता तो सूतक काल लगता, लेकिन ये ग्रहण भारत में नहीं दिखेगा इसलिए न तो यहां सूतक काल मान्य होगा और नहीं धार्मिक आयोजनों में किसी तरह की रुकावट आएगी। 

हालांकि भारत में ये सूर्यग्रहण नहीं दिखेगा, लेकिन फिर भी कभी भी आप सूर्यग्रहण को देखें तो इन बातों का खास ख्याल रखें-

  1. नग्न आंखों से सूर्यग्रहण को न देखें। सूर्य की किरणें आपकी आंखों को नुकसान पहुंचा सकती हैं।
  2. सूर्यग्रहण को देखने के लिए विशेष तौर पर बने चश्मों का ही प्रयोग करें। साधारण चश्मों से सूर्यग्रहण कभी न देखें।
  3. कैमरा, दूरबीन या टेलीस्कोप की मदद से भी सूर्यग्रहण को देखने की कोशिश न करें।
  4. आप पिनहोल प्रोजेक्टर की मदद से सुरक्षित तरीके से सूर्यग्रहण देख सकते हैं। इंटरनेट पर पिनहोल प्रोजेक्टर बनाने के आसान तरीके आपको मिल जाएंगे।

Find Us on Facebook

Trending News