लड़कियों की शादी की आयु पर सपा सांसद के बिगड़े बोल, कहा- लेट से शादी होगी तो बच्चा कब पैदा करेगी

लड़कियों की शादी की आयु पर सपा सांसद के बिगड़े बोल, कहा- लेट से शादी होगी तो बच्चा कब पैदा करेगी

Desk. लड़कियों की शादी की उम्र 18 से बढ़ाकर 21 साल किए जाने मोदी सरकार के फैसले पर नेताओं के बेतुके बयान समाने आ रहे हैं. इस कड़ी में समाजवादी पार्टी के सांसद भी शामिल हो गये हैं. यूपी के संभल से समाजवादी पार्टी के सांसद डॉ. शफीकुर्रहमान बर्क के बाद अब मुरादाबाद से सपा सांसद डॉ. एसटी हसन ने विवादित बयान दिया है. सांसद हसन ने कहा है कि लड़कियों की फर्टाइल आयु 26 से 30 साल होती है. शादी लेट होगी तो औलाद पैदा नहीं होगी. इनफर्टिलिटी की समस्या बढ़ेगी.

सपा सांसद ने कहा है कि फर्टाइल आयु होते ही लड़कियों की शादी कर देना चाहिए, क्योंकि लड़कियों की शादी में देरी से आवरागी और क्राइम दोनों बढ़ते हैं. सपा सांसद ने लड़कियों की शादी की न्यूनतम उम्र 18 साल से घटाकर 16 साल करने की मांग की है. सांसद हसन ने अपने बयान में कहा है कि लड़कियां जब 16-17 साल की होती हैं तो उनके लिए शादी के अच्छे प्रपोजल आते हैं. इसके बाद अच्छे रिश्ते नहीं आते हैं. यदि सरकार लड़कियों की शादी की न्यूनतम उम्र 21 साल कर देगी तो फिर उन्हें अच्छे रिश्ते नहीं मिलेंगे. अच्छे रिश्तों के लिए और भी इंतजार करना होगा और इस इंतजार में फर्टिलिटी आयु निकल जाएगी.

सांसद हसन का कहना है कि यदि देरी से शादी होगी तो बच्चे भी देरी से होंगे. आदमी जब बूढ़ा हो चला होगा तब उसके बच्चे स्कूल जा रहे होंगे. इससे पूरी साइकिल गड़बड़ा जाएगी. इसलिए लड़कियों की शादी समय से होना बेहद जरूरी है, ताकि समय से बच्चे पैदा हों. बता दें कि मुरादाबाद के सांसद हसन पेशे से चिकित्सक हैं. डॉक्टर हसन ने अपने बयान में संभल के अपने साथी सांसद के बेतुके बयान का समर्थन किया है. हसन ने कहा है कि आजकल इंटरनेट की वजह से लड़कियों का हॉर्मोनल लेवल तेजी से बढ़ता है, जिसकी वजह से वो आवारगी और क्राइम की तरफ बढ़ती हैं. इंटरनेट पर तैर रही गंदी तस्वीरें और वीडियो इसे बढ़ावा दे रहे हैं.


Find Us on Facebook

Trending News