SSB ने नवोदय स्कूली छात्रों के बीच चलाया say to no drugs कैम्पेन, युवाओं को लत से बचाने के लिए दिखाई गई शॉर्ट फिल्म

SSB ने नवोदय स्कूली छात्रों के बीच चलाया say to no drugs कैम्पेन,  युवाओं को लत से बचाने के लिए दिखाई गई शॉर्ट फिल्म

BETIA : पश्चिम चंपारण के बेतिया स्थित सशस्त्र सीमा बल के मुख्यालय ने आज say no to drugs को लेकर एक जागरूकता अभियान चलाया है। बेतिया के वृंदावन स्थित जवाहर नवोदय विद्यालय के छात्रों को एसएसबी के द्वितीय सेनानायक पराग चतुर्वेदी ने शार्ट फिल्मों के माध्यम से ड्रग्स की खामियों के बारे में बताया कि कैसे हमारे युवा इस चंगुल में फंसते चले जाते हैं। 

सेनानायक ने देश की भौगोलिक स्थितियों को समझाते हुए बताया कि हमारा देश नार्थ-ईस्ट के बाहर गोल्डेन ट्राएंगल और राजस्थान,पंजाब के आगे गोल्डेन क्रिसेंट जैसे पॉपी उत्पादक देशों से घिरा है।जो पूरी दुनिया पॉपी के उत्पादन में सबसे ज्यादा कॉन्ट्रिब्यूशन करते हैं।नॉर्थ-ईस्ट के पार  के साउथ एशिया के  तीन देशों थाइलैंड,म्यांमार और लाओस को मिलाकर जो काल्पनिक रेखा बनती है उसे गोल्डन ट्राएंगल कहा जाता है और राजस्थान,पंजाब के आगे के तीन देशों अफगानिस्तान,पाकिस्तान और ईरान को मिलाकर गोल्डन क्रिसेंट के इलाके हैं। इन सबके बीच हमारा देश एक सैंडविच की तरह इस्तेमाल होता है। इस वजह से हम ट्रांजिट पॉइंट,एक बड़े कंज्यूमर और डेस्टिनेशन हो जाते हैं। 

यूथ को बचाना सबसे बड़ी चुनौती

 सेनानायक ने कहा कि हमे अपने यूथ को बचाना सबसे बड़ी चुनौती है। क्योंकि यूथ हमारे बहुत हीं वर्नेएबल होते हैं। एसएसबी के इस कार्यक्रम में प्राचार्य और शिक्षकों सहित वर्ग छह से 12वीं तक के सभी छात्र-छात्राएं शामिल रहे।प्लस 2 के छात्र अमित ने बताया कि ये कार्यक्रम हमारे लिए बहुत उपयोगी रहा।ड्रग्स कैसे हमारे जीवन को धीरे-धीरे खत्म करता है इसकी जानकारी हमलोगों को आज इस कार्यक्रम से मिली है। 

Find Us on Facebook

Trending News