कांग्रेस में शरद यादव के बाद बेटी सुभाषिणी यादव और दिग्गज नेता काली पांडे की एंट्री, कांग्रेस को जताया आभार

कांग्रेस में शरद यादव के बाद बेटी सुभाषिणी यादव और दिग्गज नेता काली पांडे की एंट्री, कांग्रेस को जताया आभार

पटना.बिहार विधानसभा चुनाव जिसपर देश भर की नजर हैं वही हर रोज बिहार की बदलती तस्वीरें सामने आ रही है. बिहार विधानसभा चुनाव से पहले नेताओं का दल-बदल का सिलसिला जारी है. इसी क्रम में आज दिग्गज राजनेता शरद यादव  की बेटी सुभाषिणी यादव ने कांग्रेस पार्टी  की सदस्यता ग्रहण कर चुनावी मैदान में उतर चुकी है . सुभाषिणी के अलावा बिहार के जाने-माने नेता काली पांडेय  ने भी कांग्रेस की सदस्यता ली है. सुभाषिणी यादव ने कांग्रेस में शामिल होकर कहा कि अपने पिता की तरह उनकी भी जिम्मेदारी बनती है कि वे महागठबंधन को आगे ले जाएं. सुभाषिणी ने कहा, 'पिताजी की तबीयत ठीक नहीं चल रही है, इसलिए वो बिहार चुनाव में उतने एक्टिव नहीं हैं. बेटी होने के नाते मेरी नैतिक जिम्मेदारी बनती है कि मैं उनके काम को आगे बढ़ाऊं और उनकी जिम्मेदारी को अपना समझ कर आगे ले जाऊं. शरद यादव जी ने हमेशा महागठबंधन का साथ दिया है.' इधर, काली पांडेय ने कहा कि कांग्रेस उनका घर रहा है, वो अपने घर में लौट आए हैं.

कांग्रेस पार्टी में शामिल होते हुए शरद यादव की बेटी ने कहा कि अपने पिता के पदचिह्नों पर चलते हुए वह उनकी ही तरह जिम्मेदारीपूर्वक राजनीति करना चाहती हैं. सुभाषिणी ने कहा कि उनके पिता हमेशा महागठबंधन को मजबूत करने के लिए संघर्ष करते रहे हैं. वह भी इस गठबंधन को आगे ले जाने का हरसंभव प्रयास करेंगी. सुभाषिणी ने कांग्रेस में शामिल होने के लिए पार्टी की अध्यक्ष सोनिया गांधी और राहुल गांधी का आभार जताया और ये भरोसा दिलाया वो उनक साथ हैं

काली पांडेय ने कांग्रेस में वापसी  करते हुए पार्टी को अपना घर बताया. उन्होंने कहा, 'आज खुद को गौरवान्वित महसूस कर रहा हूं. 1984 में विधायक बना था. राजीव गांधी का अट्रैक्शन था, इसलिए राजीव जी का साथ दिया. पहले भी मैं कांग्रेस पार्टी के टिकट पर चुनाव लड़ चुका हूं. ये मेरा पुराना घर है, खुशी है कि अपने घर वापस आ रहा हूं.' आपको बता दें कि काली पांडेय को बाहुबली विधायक के तौर पर जाना जाता रहा है. कांग्रेस के अलावा वो दूसरी पार्टियों में भी रहे हैं.

Find Us on Facebook

Trending News