चीफ जस्टिस रंजन गोगोई को मिली क्लीन चिट, सुप्रीम कोर्ट ने यौन उत्पीड़न की शिकायत को किया खारिज

चीफ जस्टिस रंजन गोगोई को मिली क्लीन चिट, सुप्रीम कोर्ट ने यौन उत्पीड़न की शिकायत को किया खारिज

NEW DELHI : यौन उत्पीड़न के आरोपों में घिरे सुप्रीम कोर्ट के चीफ जस्टिस रंजन गोगोई को जांच कर रही तीन सदस्यीय कमेटी ने क्लीन चिट दे दी है। सुप्रीम कोर्ट के तीन जजों की इन हाउस कमेटी ने इस मामले में सोमवार को कहा कि वे इस नतीजे पर पहुंचे हैं कि चीफ जस्टिस रंजन गोगोई पर जो आरोप लगाए गए हैं, वे निराधार हैं। उनके खिलाफ कोई सबूत नहीं मिले हैं। 

जस्टिस एसए बोबडे इस पैनल के अध्यक्ष जबकि जस्टिस इंदु मल्होत्रा और जस्टिस इंदिरा बनर्जी अन्य दो अन्य सदस्य थे। कमेटी ने अपनी रिपोर्ट जमा कर दी है। ये रिपोर्ट सीजेआई के अलावा वरिष्ठ जजों को भी सौंप दी गई है।

क्या था मामला

आपको बता दें कि सुप्रीम कोर्ट के पूर्व स्टाफर नेCJIके खिलाफ यह आरोप लगाया था, जो 20 अप्रैल को कुछ न्यूज वेब पोर्टलों के द्वारा पब्लिक डोमेन में आया। आरोप लगाने वाली महिला ने CJI के दिल्ली स्थित होम ऑफिस में काम किया था और उसके हलफनामे के आधार पर कुछ न्यूज पोर्टलों ने उसके आरोपों को प्रकाशित किया था। अपने खिलाफ यौन उत्पीड़न के आरोपों को अविश्वसनीय बताते हुए CJI ने सुप्रीम कोर्ट की एक स्पेशल सुनवाई की थी और कहा कि इसके पीछे एक बड़ी साजिश है। उन्होंने कहा था कि कुछ बड़ी ताकतें CJI के ऑफिस को निष्क्रिय करना चाहती हैं।

Find Us on Facebook

Trending News