शादी के आठ माह बाद ही विवाहिता की संदिग्ध मौत, मायकेवालों का आरोप - ससुरालवालों ने दहेज के लिए मार डाला

शादी के आठ माह बाद ही विवाहिता की संदिग्ध मौत, मायकेवालों का आरोप - ससुरालवालों ने दहेज के लिए मार डाला

PATNA : शादी को अभी आठ माह का समय ही गुजरा था कि दहेज के लोभियों ने विवाहिता की हत्या कर दी। मामला पटना के शास्त्रीनगर थाना क्षेत्र की है, जहां 22 वर्षीय मोनी कुमारी की संदिग्ध स्थिति में मौत हो गई। मृतका के परिजनों का आरोप है कि उसके पति ने अपने परिवार के साथ मिलकर हत्या कर दी है। फिलहाल मामला सामने आने के बाद पुलिस जांच में जुट गई है।

1 दिसंबर को हुई थी शादी

बताया गया कि शास्त्रीनगर थाना के  सरस्वती विहार कॉलोनी, अम्बेडकरपथ, पिलर नम्बर 5  के पास अरवल की रहने वाली बेटी 22 वर्षीय मोनी कुमारी  की शादी बड़ी धूमधाम से पटना के शास्त्रीनगर थाना क्षेत्र के रहने वाले निजी ठेकेदार अभिषेक रंजन से हुई थी। लेकिन शादी के कुछ समय बाद ही अभिषेक की बुरी आदतें सामने आने लगीं। मृतका के पिता और भाई ने आरोप लगाते हुए बताया कि पति अभिषेक रंजन का दूसरी लड़कियों से गलत संबंध का पता पत्नी मोनी को लग गया था। जिसकी जानकारी उसने अपने मायके वालों को भी दी। परिवार का आरोप है कि मोनी कुमारी  को बराबर ससुराल वाले दहेज के लिए प्रताड़ित भी कर रहे थे।

आज तबीयत खराब होने की दी जानकारी

परिजनों ने बताया कि आज अचानक ससुराल वालों द्वारा फोन पर मोनी के तबीयत ज्यादा खराब होने की सूचना दी। जिसके बाद आनन फानन में परिवार वाले पटना के राजाबाजार स्थित पारस अस्पताल पहुंचे।  लेकिन तब तक उसकी मौत हो चुकी थी। जिसके बाद परिवार के लोगों ने अस्पताल में हंगामा करना शुरू कर दिया। उनका आरोप था कि अस्पताल आने से पहले ही उसकी मौत हो चुकी थी। वहीं अस्पताल में हंगामा बढ़ता देख अस्पताल प्रशासन ने शास्त्रीनगर थाना को सूचना दे दी, जिसके बाद पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है। पोस्टमार्टम जांच के बाद ही मामला स्पष्ट हो पायेगा की मृतक मोनी की हत्या है या कोई और कारण 

 



Find Us on Facebook

Trending News