शिक्षिका मर्डर केस, पीड़ित पतिा ने ससुराल वालों पर हत्या की प्राथमिकी दर्ज कराई, कहा- साजिश के तहत उनकी बेटी को मार डाला

शिक्षिका मर्डर केस, पीड़ित पतिा ने ससुराल वालों पर हत्या की प्राथमिकी दर्ज कराई, कहा- साजिश के तहत उनकी बेटी को मार डाला

नवगछिया... गोपालपुर थाना क्षेत्र के गोसाईगांव की प्राइवेट शिक्षिका दीक्षा झा के संदेहास्पद मौत मामले में उसके पिता रंगरा निवासी मदन मोहन मिश्र ने गोपालपुर थाने में हत्या की प्राथमिकी दर्ज कराई है। दर्ज प्राथमिकी में मृतका की सास आशा देवी और पति मनीष कुमार झा को नामजद किया गया। मृतिका के पिता वयोवृद्ध मदन मोहन मिश्र कहा कि 2 नवंबर को फोन से सूचना दी गई कि गोसाइगांव में उसकी पुत्री दीक्षा ने फांसी लगा ली है। जब वे अन्य परिजनों के साथ गांव पहुंचे तो वहां पर देखा कि आंगन में दीक्षा का शव पड़ा हुआ है और उसके गले पर काला निशान है। जब दीक्षा के ससुराल वालों उसकी सास और उसके पति से मनीष से पूछताछ की गई तो उन लोगों को किसी भी प्रकार का संतोषजनक उत्तर नहीं मिला।

मदन मोहन मिश्र ने कहा कि अक्सर उनकी पुत्री दीक्षा दशहरा में ही रहती थी। ससुराल वालों के प्रताड़ना से आजिज होकर वह अपने ससुराल जाना नहीं चाहती थी, लेकिन इस बार दशहरा में दीक्षा के पति मनीष, उसे बहला-फुसलाकर गोसाइगांव लेकर चले गए। श्री मिश्र ने आशंका व्यक्त करते हुए कहा है कि मनीष कुमार और उसकी मां आशा देवी ने एक साजिश के तहत उसकी पुत्री दीक्षा की हत्या फांसी लगाकर कर दी गई है।

मदन मोहन मिश्र ने कहा कि उसकी पुत्री जब भी ससुराल जाती थी तो मनीष अपनी मां के साथ मिलकर उसके साथ मारपीट भी करता था। दीक्षा आकर शिकायत करती थी तो वह मनीष को ऐसा ना करने की हिदायत देते थे तो मनीष आगबबूला होकर कहता था कि अभी तो मामूली रूप से मारपीट की गई है। आए दिन में दीक्षा की हत्या भी कर सकते हैं।

दीक्षा की बहन भागलपुर निवासी निभा कुमारी ने बताया कि उसे 2 नवंबर को सूचना मिली कि दीक्षा की हालत खराब है और उसका नवगछिया के एक निजी अस्पताल में इलाज चल रहा है। वह आनन-फानन में नवगछिया के निजी अस्पताल में पहुंचे तो वहां से सभी जा चुके थे। जब दीक्षा के आप पड़ोस में रहने वाले लोगों से पूछताछ किया तो पता चला कि दीक्षा की हत्या फांसी लगाकर की गई है।

मृतका की बहन ने निभा कहा है कि अभी भी दीक्षा का पुत्र यश कुमार उसके ससुराल वालों के कब्जे में है। उसे आशंका है कि कहीं उसके मासूम बच्चे के साथ भी किसी प्रकार की घटना को अंजाम न दे दे। गोपालपुर थाना के थानाध्यक्ष कुणाल आनंद चक्रवर्ती ने कहा कि मामले में हत्या की प्राथमिकी दर्ज कर ली गई है। पुलिस अनुसंधान में जुट गई है।


Find Us on Facebook

Trending News