बिहार उत्तरप्रदेश मध्यप्रदेश उत्तराखंड झारखंड छत्तीसगढ़ राजस्थान पंजाब हरियाणा हिमाचल प्रदेश दिल्ली पश्चिम बंगाल

BREAKING NEWS

  • मोतिहारी में एचएम और डीपीएम के बीच जमकर चलें लात घूंसे, वीडियो सोशल मीडिया में हुआ वायरल
  • मोतिहारी में एचएम और डीपीएम के बीच जमकर चलें लात घूंसे, वीडियो सोशल मीडिया में हुआ वायरल

  • बांका में अवैध खनन रोकने गए दारोगा और सिपाही पर बालू माफियाओं ने कुल्हाड़ी से किया, जब्त बालू लदे ट्रैक्टर लेकर हुए फरार
  • बांका में अवैध खनन रोकने गए दारोगा और सिपाही पर बालू माफियाओं ने कुल्हाड़ी से किया, जब्त बालू

  • गया में अनियंत्रित वाहन की चपेट में आने से सरकारी शिक्षक की हुई मौत, परिजनों में मचा कोहराम
  • गया में अनियंत्रित वाहन की चपेट में आने से सरकारी शिक्षक की हुई मौत, परिजनों में मचा कोहराम

  • पुण्यतिथि पर याद किए गए अखिल भारतीय कायस्थ महासभा के भूतपूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष रवि नंदन सहाय, रविशंकर प्रसाद और आरके सिन्हा ने दी श्रद्धांजलि
  • पुण्यतिथि पर याद किए गए अखिल भारतीय कायस्थ महासभा के भूतपूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष रवि नंदन सहाय, रविशंकर प्रसाद

  • खगड़िया में रंग लायी जदयू विधायक डॉ. संजीव की पहल, 9 करोड़ की लागत से 100 एकड़ जमीन होगा विकसित, उद्योग लगाने के लिए होंगे आवंटित
  • खगड़िया में रंग लायी जदयू विधायक डॉ. संजीव की पहल, 9 करोड़ की लागत से 100 एकड़ जमीन

  • सीएम योगी की कार के आगे चल रही एंटी डेमो गाड़ी पलटी, हादसे में पांच पुलिसकर्मी सहित नौ लोग बुरी तरह से चोटिल
  • सीएम योगी की कार के आगे चल रही एंटी डेमो गाड़ी पलटी, हादसे में पांच पुलिसकर्मी सहित नौ

  • हथुआ राज के महाराजा मृगेंद्र प्रताप शाही को मिली मानद डॉक्टरेट की उपाधि, थाईलैण्ड के प्रसिद्ध विश्वविद्यालय ने सामाजिक कार्यों के लिए किया सम्मानित
  • हथुआ राज के महाराजा मृगेंद्र प्रताप शाही को मिली मानद डॉक्टरेट की उपाधि, थाईलैण्ड के प्रसिद्ध विश्वविद्यालय ने

  • कोटा में नीट की तैयारी कर रही छात्रा ने की आत्महत्या की कोशिश, समय रहते पहुंच गई मां
  • कोटा में नीट की तैयारी कर रही छात्रा ने की आत्महत्या की कोशिश, समय रहते पहुंच गई मां

  • जमुई के टीआर नारायण हेरिटेज प्ले स्कूल में धूमधाम से मनाया गया पहला वार्षिकोत्सव, बच्चों ने दी एक से बढ़कर एक प्रस्तुति
  • जमुई के टीआर नारायण हेरिटेज प्ले स्कूल में धूमधाम से मनाया गया पहला वार्षिकोत्सव, बच्चों ने दी एक

  • परिवार से फ्लैट खाली कराने में गुंडों की सहायता लेना कंकड़बाग थाने को पड़ा भारी, दोषी पुलिसकर्मी अपने पॉकेट से देंगे पीड़ित को मुआवजा, हाईकोर्ट का निर्देश
  • परिवार से फ्लैट खाली कराने में गुंडों की सहायता लेना कंकड़बाग थाने को पड़ा भारी, दोषी पुलिसकर्मी अपने

शिक्षकों के मुंह पर ताला ! न संघ बना सकते... न बोल सकते हैं... न हड़ताल और प्रदर्शन ही कर सकते हैं, किया तो खैर नहीं , शिक्षा विभाग का फरमान

शिक्षकों के मुंह पर ताला ! न संघ बना सकते... न बोल सकते हैं... न हड़ताल और प्रदर्शन ही कर सकते हैं, किया तो खैर नहीं , शिक्षा विभाग का फरमान

PATNA : बिहार के शिक्षक मुंह बंद रखेंगे। सभी के जुबान पर ताला लगा दिया गया है। अगर वह सोशल मीडिया में या फिर टेलीविजन अखबार में अपना विचार प्रकट करते हैं,सरकार की नीतियों के खिलाफ बोलते हैं या प्रचार प्रसार करते हैं तो उनके खिलाफ ठोस अनुशासनिक कार्रवाई की जाएगी। शिक्षा विभाग ने इस संबंध में चेतावनी भरा पत्र जारी किया है। माध्यमिक शिक्षा निदेशक कन्हैया प्रसाद श्रीवास्तव ने इस संबंध में सभी जिला शिक्षा पदाधिकारी को पत्र जारी किया है।

शिक्षा विभाग के अपर मुख्य सचिव के के पाठक के आदेश पर माध्यमिक शिक्षा निदेशक ने जो पत्र लिखा है उसमें प्रारंभिक विद्यालय से लेकर माध्यमिक / उच्च माध्यमिक विद्यालय के सभी शिक्षकों एवं शिक्षकेत्तर कर्मियों को सामान्य अनुशासन का पालन किए जाने को निर्देश दिया है।

निदेशक ने कहा है कि प्रारंभिक, माध्यमिक / उच्च माध्यमिक विद्यालय के कुछ शिक्षकों एवं शिक्षकेत्तर कर्मियों द्वारा विभिन्न सोशल मिडिया एवं अखबारों के माध्यम से अपने विचार प्रकट किए जाने की सूचना प्राप्त होती रहती है। उनके द्वारा कभी-कभी राज्य सरकार की नीतियों की आलोचना भी की जाती है। साथ ही राज्य सरकार की नीतियों का विरोध भी किया जाता है। ऐसा किया जाना शिक्षा के क्षेत्र में शैक्षणिक माहौल को बेहतर करने में बाधा उत्पन्न करता है। 

विभाग की ओर से कहा गया है की प्रारंभिक / माध्यमिक शिक्षा के क्षेत्र में शैक्षणिक माहौल बेहतर करने के उद्देश्य से स्पष्ट किया जाता है की शिक्षा विभाग द्वारा शिक्षक या शिक्षकेत्तर कर्मियों के किसी भी संघ को मान्यता नहीं दी गई है। यह भी उल्लेखनीय है कि किसी भी शिक्षक या शिक्षकेत्तर कर्मियों को किसी भी संघ का सदस्य बनने की मनाही है। यदि किसी भी शिक्षक या शिक्षकेत्तर कर्मियों द्वारा किसी भी संघ की स्थापना की जाती है या उसकी सदस्यता ली जाती है तो इसे गंभीर कदाचार माना जायेगा । उक्त शिक्षक / कर्मी के विरूद्ध कठोर अनुशासनिक कार्रवाई की जायेगी। किसी भी शिक्षक या शिक्षकेत्तर कर्मियों द्वारा सोशल मिडिया साईट या समाचार पत्र या टी०वी० के माध्यम से अनर्गल प्रचार-प्रसार नहीं किया जायेगा। यदि ऐसा किया जाता है तो इसे गंभीर कदाचार माना जायेगा एवं शिक्षक / कर्मी के विरूद्ध कठोर अनुशासनिक कार्रवाई की जायेगा। ऐसे में सभी शिक्षकों एवं शिक्षकेत्तर कर्मी से आदेश का सख्ती से पालन कराना सुनिश्चित करें। किसी भी प्रकार की अनुशासनहीनता, हड़ताल, प्रदर्शन इत्यादि करने पर संबंधित के विरूद्ध कठोर अनुशासनिक कार्रवाई की जाएगी।