अकेले पड़ गए तेज प्रताप, पार्टी के बाद परिवार से भी बढ़ रही है दूरी

अकेले पड़ गए तेज प्रताप, पार्टी के बाद परिवार से भी बढ़ रही है दूरी

PATNA : राजद कार्यालय पर अधिकार से शुरू हुई लड़ाई अब लालू परिवार के घर के अंदर तक पहुंच गई है। जिसमें एक तरफ तेज प्रताप हैं, वहीं दूसरी तरफ तेजस्वी यादव। पार्टी में जो हालात हैं और जिस तरह तेजस्वी यादव ने बड़े भाई की हरकतों को लेकर अपनी नाराजगी जाहिर की है, उसके बाद तेज प्रताप अब बिल्कुल अकेले पड़ते नजर आ रहे हैं। 

जिस तरह से आधी रात को तेजस्वी यादव अपने पिता लालू प्रसाद मिलने पहुंचे और यह बात बात सामने आई है कि तेजस्वी ने पिता से बड़े भाई के खिलाफ कार्रवाई की मांग की है। उसके बाद यह साफ हो गया है कि दोनों भाइयों के रिश्तों में खटास आ चुकी है। अब जिस तरह से लालू प्रसाद खुलकर तेजस्वी यादव की तारीफ करते रहे हैं, उसके बाद इस बात से इनकार नहीं किया जा सकता है कि तेज प्रताप की जगह तेजस्वी को ज्यादा महत्व दी जाएगी। 

दिल्ली रवानगी से पहले तेजस्वी ने दी बड़े भाई को सिखाए संस्कार

तेजस्वी ने जाते-जाते बड़े भाई तेजप्रताप की कार्यशैली पर तीखा प्रहार करते हुए साफ नसीहत भी दी है। पटना एयरपोर्ट पर पत्रकारों ने तेजप्रताप मसले पर पूछा तो कहा- वो बड़े भाई हैं, यह अलग बात है पर सबको अनुशासन में रहना होगा। नाराजगी होती रहती है पर हमलोगों को माता-पिता ने ये संस्कार दिया है कि बड़ों की इज्जत करो, सम्मान करो, थोड़ा अनुशासन में भी रहो।

तेज प्रताप के लिए मुश्किल राहें

राजद से जो बातें सामने आ रही है, उसके बाद यह माना जा रहा है लालू प्रसाद तेज प्रताप के खिलाफ कार्रवाई कर सकते हैं। अगर ऐसा होता है तो लालू परिवार में पहली बार ऐसा हो सकता है तेज प्रताप दूरी बना लें। अगर ऐसा होता है तो तेज प्रताप के लिए आगे की राजनीतिक राहें बेहद मुश्किल भरी होगी। क्योंकि तेज प्रताप के पास पार्टी के छात्र नेताओं का समर्थन जरुर है, लेकिन पार्टी के तमाम विधायक तेजस्वी को अपना नेता मानते हैं। यहां तेज प्रताप बिल्कुल अकेले हैं। 

Find Us on Facebook

Trending News