तेजस्वी-तेजप्रताप पर मर्डर केस के बाद गरमा गई सियासत, शिवानंद तिवारी ने कहा-करवा लीजिए CBI जांच

तेजस्वी-तेजप्रताप पर मर्डर केस के बाद गरमा गई सियासत, शिवानंद तिवारी ने कहा-करवा लीजिए CBI जांच

Patna : पूर्णिया में पूर्व राजद नेता शक्ति मल्लिक की हत्या मामले में लालू यादव के दोनों बेटों के खिलाफ मर्डर का केस दर्ज किया गया है. तेजस्वी और तेजप्रताप पर हत्या का केस दर्ज होने के बाद अब बिहार की राजनीति गरमा गई है.

तेजस्वी तेजप्रताप के खिलाफ हो रहा है षड्यंत्र
राजद के सीनियर लीडर शिवानंद तिवारी ने कहा है कि पूर्णिया जिले के बाल्मीकि समाज के एक नेता की हत्या हुई है. राजद इस हत्या की घोर निंदा करता है. इस मामले में मृतक के परिवार के लोगों ने पुलिस के समक्ष नामजद एफ आई आर दर्ज कराया है. उन्होंने नेता प्रतिपक्ष तथा उनके बड़े भाई पर हत्या का आरोप लगाया गया है. हम इस आरोप को मजबूती के साथ नकारते हैं. 

विधानसभा का चुनाव सिर पर है. ऐसे समय में नेता प्रतिपक्ष और उनके बड़े भाई को हत्या के मामले में नामजद अभियुक्त बनाने को हम  एक गंभीर राजनीतिक षड्यंत्र के रूप में देख रहे हैं. मुख्यमंत्री नितीश जी की पार्टी के मुख्य प्रवक्ता संजय सिंह जी ने इस मामले की जांच सीबीआई से कराने की मांग की है. 

उन्होंने कहा कि संजय जी के इस बयान को हम मुख्यमंत्री जी की पार्टी का आधिकारिक बयान मान रहे हैं. हम जदयू की इस मांग का समर्थन करते हैं. हम भी मुख्यमंत्री जी से मांग करते हैं कि सरकार तत्काल इस मामले की जांच सीबीआई को सौंपी जाए. साथ ही हम यह भी मांग करते हैं कि जब तक सीबीआई की जांच पूरी ना हो जाए तब तक मुख्यमंत्री जी अपने तथा अपने सहयोगी दलों के नेताओं को अनर्गल बयान देने पर रोक लगाएं. हम आशा करते हैं कि नीति और नैतिकता की बराबर दुहाई देने वाले मुख्यमंत्री जी हमारी बातों को गंभीरता से लेंगे.

Find Us on Facebook

Trending News