टीईटी एसटीईटी उतीर्ण नियोजित शिक्षक संघ ने की मांग, प्रधानाध्यापक और बीडीओ से हो नियुक्ति पत्र का सत्यापन

टीईटी एसटीईटी उतीर्ण नियोजित शिक्षक संघ ने की मांग, प्रधानाध्यापक और बीडीओ से हो नियुक्ति पत्र का सत्यापन

PATNA : बिहार में 23 फरवरी को करीब हजारों नियोजित शिक्षकों को नियुक्ति पत्र दिया गया है। लेकिन टीईटी एसटीईटी उतीर्ण नियोजित शिक्षक संघ (TSUNSS) गोपगुट के प्रदेश अध्यक्ष मार्कण्डेय पाठक एवं प्रदेश प्रवक्ता अश्विनी पाण्डेय ने बताया कि 23 फरवरी को नियुक्ति पत्र पाए नवनियुक्त शिक्षकों को योगदान करने में समस्याओं का सामना करना पड़ रहा है। नवनियुक्त शिक्षकों के प्रधानाध्यापक को विद्यालय में योगदान कराने से पूर्व नियोजन इकाई के सचिव से नियुक्ति पत्र को सत्यापित करवाना पड़ता है जबकि नियोजन इकाई के सचिव प्रधानाध्यापक/नवनियुक्त शिक्षक को समय ही नही दे रहे है। उनके द्वारा विभिन्न प्रकार का बहाना बना कर नियुक्ति पत्र को सत्यापित नही किया जा रहा है। जिस कारण नवनियुक्त शिक्षकों को योगदान करने में समस्या उत्पन्न हो रही है।

टीईटी एसटीईटी उतीर्ण नियोजित शिक्षक संघ के प्रदेश प्रवक्ता अश्विनी पाण्डेय ने शिक्षा विभाग के अपर मुख्य सचिव से मांग की है कि नवनियुक्त शिक्षकों को परेशानी से बचाने के लिए तत्काल प्रभाव से नवनियुक्त शिक्षकों को योगदान कराने की व्यवस्था हो। ततपश्चात सम्बंधित विद्यालय के प्रधानाध्यापक एवं प्रखंड शिक्षा पदाधिकारी के माध्यम से नियुक्ति पत्र को सत्यापित करवाया जाए।

ज्ञात हो कि ऐसा आदेश मुजफ्फरपुर के जिला कार्यक्रम पदाधिकारी (स्थापना) द्वारा दिया जा चुका है इसे पूरे बिहार स्तर पर लागू किये जाने की जरूरत है। अगर शिक्षा तत्काल प्रभाव से ऐसा कदम नही उठाता है तो नवनियुक्त शिक्षकों को आर्थिक एवं मानसिक रूप से प्रताड़ित होने के लिए विभाग छोड़ देगा।

Find Us on Facebook

Trending News