छपरा में 5 साल बाद जीवित घर लौटा बच्चा, सर्पदंश से मौत के बाद परिजनों ने गंगा में कर दिया था प्रवाहित

छपरा में 5 साल बाद जीवित घर लौटा बच्चा, सर्पदंश से मौत के बाद परिजनों ने गंगा में कर दिया था प्रवाहित

CHHAPRA : इसे भगवान का चमत्कार ही कहेंगे की जिस बच्चे की मौत आज से 5 साल पहले सर्पदंश से हो गई थी। वह बच्चा जीवित सकुशल अपने गांव के बगल के गांव में भटकता हुआ पहुंच गया है। बाद में उसे स्थानीय लोगों ने उसके सकुशल घर पहुंचाया। वह स्थानीय निवासियों के लिए कौतूहल का विषय बना हुआ है। 


गौरतलब है कि आज से 5 साल पहले इस बच्चे की सर्पदंश से मृत्यु हो गई थी। उसके बाद केले के थम पर इसे लिटा कर नाम पता लिखकर नदी में प्रवाहित कर दिया गया था। 

उसके बाद भगवान की दया से यह बच्चा जीवित है और भटकते हुए अपने पास के गांव में पहुंच गया। जब स्थानीय लोगों ने उसे देखा तो उसे उसके घर पहुंचाया गया है।स्थानीय लोगों के मुताबिक तरैया थाना के गण्डार गांव स्थित ब्रहम स्थान निवासी हरेंद्र महतो का पुत्र कृष्ण कुमार बताया गया है। 

हरेंद्र महतो ने बताया कि आज से 5 साल पहले उसे इसी जगह पर सांप ने काट लिया था और गले में नाम पता लिखकर नदी में प्रवाहित कर दिया गया था। जिसे इसुआपुर बिशनपुरा के पास से लाया गया है। जो पहचान के चिन्ह बताए गए हैं वह बच्चे के शरीर पर है।

छपरा से संजय भारद्वाज की रिपोर्ट 



Find Us on Facebook

Trending News