जिस देश ने भारत में दो सौ साल तक किया राज, अब एक भारतीय संभालेगा उस देश की बागडोर!

जिस देश ने भारत में दो सौ साल तक किया राज, अब एक भारतीय संभालेगा उस देश की बागडोर!

DESK : कहते हैं वक्त का पहिया घूमकर वहीं आ जाता है, जहां से उसने सफर की शुरुआत की थी। यह बात अब सच साबित होने जा रही है। बात इंग्लैंड की हो रही है। जिसने भारत में दो सौ सालों तक राज किया। अब यह वक्त बदलने जा रहा है। ब्रिटेन में ऐसा पहली बार होने जा रहा है कि एक भारतीय को यहां के प्रधानमंत्री का पद मिल सकता है। चर्चा है कि ब्रिटेन ऐसे हालात बन गए हैं कि अब मौजूदा प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन (Boris Johnson) जल्द ही यह पद छोड़ सकते हैं। ऐसे में उनकी जगह जिसे प्रधानमंत्री बनने की होड़ में सबसे ऊपर बताया जा रहा है वह शख्स एक भारतीय है और इस की जगह ब्रिटेन का प्रधानमंत्री के पद की जिम्मेदारी मिल सकती है। शख्स का नाम है ऋषि सुनक (Who is Rishi Sunak)।

अभी वित्त मंत्री हैं ऋषि

ऋषि अभी ब्रिटेन में सांसद हैं, साथ ही इंग्लैंड के वित्त मंत्री की जिम्मेदारी भी संभाल रहे हैं। सिर्फ 39 साल के ऋषि ब्रिटेन की राजनीति का बड़ा चेहरा बन चुके हैं। हैंपशायर में जन्मे सुनक वर्ष 2015 से रिचमंड (यॉर्कशायर) के सांसद हैं. उन्होंने ब्रिटेन के निजी विद्यालय विंचेस्टर कॉलेज में स्कूली पढ़ाई की. सुनक पिछले साल रिचमंड (यॉर्क्स) सीट से दूसरी बार सांसद चुने गए थे. इससे पहले 2018 में उन्हें ब्रिटेन का आवास मंत्री बनाया गया था.

2014 में पहली बार पहुंचे पार्लियामेंट

सुनक को अक्तूबर 2014 में रिचमंड (यॉर्क) के लिए कंजर्वेटिव उम्मीदवार के रूप में चुना गया था. इस सीट पर पहले पार्टी के पूर्व नेता और विदेश सचिव विलियम हेग थे. सुनक को 2015 के आम चुनाव में 19,550 (36.2%) के बहुमत के साथ निर्वाचन क्षेत्र के लिए सांसद के रूप में चुना गया था.

सुनक ने उच्च शिक्षा के लिए प्रतिष्ठित ऑक्सफोर्ड यूनिवर्सिटी में दाखिला लिया. जहां से उन्होंने दर्शनशास्त्र, राजनीति और अर्थशास्त्र की पढ़ाई की. इसके बाद वह एमबीए करने के लिए अमेरिका में स्टैनफोर्ड यूनिवर्सिटी गए, जहां से उन्होंने एमबीए की डिग्री हासिल की। राजनीति मे दाख़िल होने से पहले उन्होंने इन्वेस्टमेंट बैंक गोल्डमैन सैक्स में काम किया और एक निवेश फ़र्म को भी स्थापित किया

दोबारा बने सांसद

2017 के आम चुनाव में सुनुक को फिर से सांसद के रूप में 23,108 (40.5%) के बहुमत के साथ चुना गया था. वह जनवरी 2018 और जुलाई 2019 के बीच स्थानीय सरकार के लिए संसदीय अवर सचिव थे। मीडिया इंटरव्यू के लिए सरकार अक्सर उन्हें ही आगे रखती है. इसके अलावा प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन के चुनाव प्रचार में भी उन्होंने अहम रोल दिखाया। कई मौकों पर टीवी डिबेट में प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन की जगह पर ऋषि ने हिस्सा लिया।

इंफोसिस के संस्थापक नारायणमूर्ति से है खास रिश्ता

सुनक को भारत का दामाद भी कहा जा सकता है। सुनक की शादी देश के बड़े उद्योगपति व इंफोसिस के सह-संस्थापक नारायण मूर्ति की बेटी अक्षता मूर्ति से हुई है। ऋषि और अक्षता की दो बेटियां हैं।

Find Us on Facebook

Trending News