सड़क पर खड़ी ऑटो हटाने गए दारोगा की लोगों ने जमकर कर दी धुनाई, अस्पताल में करना पड़ा भर्ती

सड़क पर खड़ी ऑटो हटाने गए दारोगा की लोगों ने जमकर कर दी धुनाई, अस्पताल में करना पड़ा भर्ती

SITAMADHI : बिहार में छठ पूजा में परिवार से अलग पुलिसकर्मी व्यवस्था को बेहतर करने और लोगों को सुरक्षा देने के लिए दिन भर ड्यूटी कर रहे हैं। वहीं दूसरी तरफ इन पुलिसकर्मियों को पुलिसवालों के गुस्से और नाराजगी का भी सामना करना पड़ रहा है।  सीतामढ़ी में एक दारोगा की सिर्फ इसलिए कुछ ऑटोवालों और लोगों ने पिटाई कर दी, क्योंकि वह सड़क पर खड़े ऑटो को किनारे करने की कोशिश कर रहा था। लोगों की पिटाई के बाद दारोगा को गंभीर हालत में अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

मामले बोखरा पिकेट थाने से जुड़ा है। स्थानीय लोगों के अनुसार शनिवार की साम पुपरी डीएसपी की गाड़ी का बोखरा पिकेट पुलिस स्कॉट कर रही थी. जब पुलिस की गाड़ी भाउर बाजार स्थित मुख्य सड़क से गुजर रही थी तभी पुलिस के द्वारा बीच सड़क पर खड़े ऑटो को जाम हटाने के लिए कहा गया. ऑटो हटाने में देरी होने पर पुलिस ने ऑटो चालक पर डंडा चला दिया. जिसके बाद ऑटो चालक और स्थानीय लोग कुछ देर तक गस्ती की गाड़ी के लौटने का इंतजार करने लगे

जीप से निकालकर दारोगा को पीटा

लोगों ने बताया कि कुछ समय बाद जब पुलिस की गश्ती गाड़ी लौटी तो काफी संख्या में लोग उसपर टूट पड़े और पुलिस जीप से दरोगा को निकालकर धक्का मुक्की और मारपीट किया

स्थानीय लोगों ने पुलिस के खिलाफ की नारेबाजी

पुलिस के द्वारा ऑटो चालक को डंडे से मारे जाने के बाद स्थानीय इतने आक्रोशित हो गए कि उन्होंने पहले तो पुलिस के साथ धक्का-मुक्की की फिर हाथापाई और अंत में पुलिस प्रशासन के खिलाफ जमकर नारेबाजी भी किया. मामले को लेकर घायल दरोगा ने बताया कि जाम को हटाने के लिए आवाज दी गई थी लेकिन वहां कोई नहीं पहुंचा

गंभीर हालत में PHC में भर्ती दारोगा अजीत कुमार ने बताया कि  "पुलिस गाड़ी से भाउर होते हुए गुजर रहे थे, इसी क्रम भाउर में सड़क पर ऑटो लगा था. जाम हटाने के लिए आवाज दिया, लेकिन कोई नहीं पहुचा. तब ऑटो को धक्का देकर साइड कर दिया गया. वापस लौटने पर वहां मौजूद ऑटो वाले एवं कुछ लोगों के साथ दो चार महिला ने उनके साथ धक्का मुक्की की है।

Find Us on Facebook

Trending News