लखीमपुर खीरी का मामला पहुंचा अमेरिका, वित्त मंत्री से पूछे तीखे सवाल, सीतारमण ने विपक्ष पर साधा निशाना

लखीमपुर खीरी का मामला पहुंचा अमेरिका, वित्त मंत्री से पूछे तीखे सवाल, सीतारमण ने विपक्ष पर साधा निशाना

Desk. उत्तर प्रदेश के लखीमपुर खीरी में मारे गये चार किसान का मामला अमेरिका तक पहुंच गया है. वर्ल्ड बैंक की बैठक में शामिल होने गईं वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण से इस बारे में सवाल किया गया है, तो उन्होंने विपक्ष पर जमक हमला बोली. बोस्टन के हार्वर्ड केनेडी स्कूल में एक चर्चा के दौरान वित्त मंत्री सीतारमण से पूछा गया कि प्रधानमंत्री और वरिष्ठ मंत्री लखीमपुर की घटना पर चुप क्यों हैं और जब कोई सवाल करता है, तो बचने की कोशिश क्यों की जाती है?

इस पर वित्त मंत्री ने विपक्ष पर निशाना साधते हुए कहा कि कहा कि लखीमपुर की हिंसा में 4 किसानों का मारा जाना बेशक निंदनीय है, लेकिन देश के दूसरे इलाकों में भी ऐसी घटनाएं हो रही हैं. ऐसी हर घटना को बराबरी से उठाना चाहिए, न कि तब जब कि वे आपके माफिक हों. सिर्फ इसलिए यह मुद्दा नहीं उठना चाहिए कि उत्तर प्रदेश में बीजेपी की सरकार है. सीतारमण ने कहा कि यह मेरी पार्टी या प्रधानमंत्री को लेकर डिफेंसिव नहीं है, बल्कि भारत को लेकर डिफेंसिव है. 

कृषि कानूनों पर बोली वित्त मंत्री

किसानों के प्रदर्शन को लेकर किए गए सवाल पर वित्त मंत्री ने कहा कि सरकार जो तीन कृषि कानून लेकर आई है, उन पर करीब एक दशक तक अलग-अलग संसदीय समितियों ने चर्चा की थी. बीजेपी जब 2014 में सत्ता में आई तो राज्य सरकारों समेत सभी पक्षों से कृषि कानूनों पर बात की गई थी. जब लोकसभा में बिल लाए गए तो भी विस्तार से चर्चा हुई और कृषि मंत्री ने जवाब दिया था, लेकिन इन बिलों के राज्यसभा में पहुंचते ही हंगामा खड़ा कर दिया गया.


Find Us on Facebook

Trending News