24 घंटे में 3 लोगों की हत्या से दहला सीवान, कहीं पान की पीक बनी हत्या की वजह, तो कहीं सरेराह शख्स पर बरसाई गोलियां

24 घंटे में 3 लोगों की हत्या से दहला सीवान, कहीं पान की पीक बनी हत्या की वजह, तो कहीं सरेराह शख्स पर बरसाई गोलियां

SIWAN: सिवान जिला में अपराधी बेलगाम हो चुके है और लगातार आपराधिक घटनाओं को अंजाम दे रहे हैं। लगातार आपराधिक घटनाओं से सिवान जिलावासी अब दहशत में आ रहे हैं। आज फिर अपराधियों ने अहले सुबह एक युवक की गोली मार हत्या कर दी है। 

घटना सिवान जिला के मैरवा थाना क्षेत्र के परसिया खुर्द नहर के समीप की है। जहां अहले सुबह अपराधियों ने एक व्यक्ति के सर में गोली मार हत्या कर दी है। घटनास्थल से पुलिस ने दो गोली का खोखा भी बरामद किया हैं। मृतक की पहचान मैरवा थाना क्षेत्र के चुपचुपवा निवासी रामायण गोड़ के 23 वर्षीय पुत्र दुखी गोड़ के रूप में हुई है। बताया जाता है कि परसिया खुर्द गांव के लोग शौच करने जा रहे थे तभी नहर के समीप खून से लतपथ शव को देखा और इसकी सूचना पुलिस को दी। सूचना मिलते ही पुलिस घटनास्थल पर पहुंची और शव को अपने कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए सदर अस्पताल भेज दिया। 

इसके पहले रविवार के दिन भी सीवान जिले में 2 जगहों पर 2 व्यक्ति को अपराधियों ने गोली मारकर मौत के घाट उतार दिया। पहली घटना महाराजगंज की है, जहां अपराधियों ने दवा दुकान पर खड़े पसनौली निवासी पुनीत तिवारी उर्फ पुन्नू बाबा की गोली मार मौत के घाट उतार दिया। वहीं दूसरी घटना रविवार शाम की है, जहां एक फेरी वाले को अपराधियों ने गोली मार मौत के घाट उतार दिया था।

वहीं बीते शनिवार को भी सीवान जिले में 2 जगह अपराधियों ने 2 लोगों को गोली मार दी थी। पहली सीवान के दरौंदा थाना इलाके के कंगाली छपरा गांव की है। शनिवार की सुबह अपने घर के समीप टहल रहे एक 65 वर्षीय बुजुर्ग देव शरण सिंह को दो अज्ञात अपराधियों ने उनके सिर में दो गोली मार दी। घटना के बाद बाइक सवार दोनों बदमाश मौके से फरार हो गए। गंभीर हालत में सीवान सदर अस्पताल में भर्ती कराया गया। जहां से गोरखपुर रेफर किया गया है मगर उनकी मौत हो गयी।

वहीं, दूसरी घटना सिवान के गोरियाकोठी थाना इलाके के जगदीशपुर गांव की है। शुक्रवार की देर शाम बाइक सवार अपराधियों ने एक युवक को पेट में गोली मार दी जिससे वह गंभीर रूप से घायल हो गया। घायल युवक की पहचान सिवान के जीबी नगर और तरवारा थाना इलाके के बहादुरपुर गांव के रहने वाले अंबिका यादव के पुत्र देवी लाल यादव के रूप में हुई। सूत्रों के अनुसार देवी लाल शराब का धंधा करता था। गोली लगने के बाद उसकी हालत गंभीर देखते हुए शनिवार की सुबह डॉक्टरों ने रेफर कर दिया।


Find Us on Facebook

Trending News