बेउर जेल में बंद सुबोध सिंह ने 8 करोड़ का सोना लूटने की रची बड़ी साजिश, अब तक लूट चुका है तीन क्विंटल सोना

बेउर जेल में बंद सुबोध सिंह ने 8 करोड़ का सोना लूटने की रची बड़ी साजिश, अब तक लूट चुका है तीन क्विंटल सोना

PATNA/DHANBAD : पटना के बेऊर जेल से अपराधिक गतिविधि का संचालन किया जाता है। इस बात के आरोप अक्सर लगाए जाते हैं। लेकिन अब यह बात साबित भी हो गई है। जब झारखंड के धनबाद में मुथुट फाइनेंस बैंक में डकैती करने पहुंचे 5 बदमाशों में से एक को पुलिस ने एनकाउंटर में ढेर कर दिया । 2 बदमाशों को गिरफ्तार किया गया है। 2 मौके से भागने में कामयाब हुए हैं। गिरफ्तार दोनों बदमाशों ने यह बात कबूल किया है कि वह बेऊर जेल में बंद सुबोध सिंह के गिरोह के लिए काम करते हैं।

मामला बैंक मोड़ थाना इलाके की मुथुट फाइनेंस बैंक का है। जहां सुबह करीब 10 बजे 5 बदमाश डकैती करने के लिए बैंक के अंदर घुसे। वे बंदूक की नोंक पर बैंक में लूटपाट करने लगे। बैंक कर्मचारियों ने फौरन पुलिस को सूचना दी। पुलिस भी तुरंत वहां पहुंच गई। पुलिस को देखते ही बदमाशों ने फायरिंग शुरू कर दी। जवाबी फायरिंग में एक बदमाश ढेर हो गया।

बैंक में मौजूद था आठ किलो सोना 

जिस वक्त सोना फाइनांस कंपनी में लुटरे पहुंचे, उस समय बैंक में 14 किलो सोना मौजूद था, जिसका बाजार मूल्य आठ करोड़ से अधिक है। एसएसपी संजीव कुमार के मुताबिक बदमाश पिछले 10 दिन से इलाके में रैकी कर रहे थे। सभी अलग-अलग जगहों पर यह लोग रह रहे थे। धनसार में भी एक कमरा लिया हुआ था। शहर के दूसरे थाना क्षेत्रों में भी किराए से कमरा लिए हुए थे। बताया गया कि बेउर जेल में बैठ कर कुख्यात अपराधी राजीव सिंह और सुबोध सिंह ने इस डकैतीकांड की पठकथा लिखी थी। उन्हीं दोनों के इशारे पर समस्तीपुर लाडरा निवासी रमेश ठाकुर गैंग के सदस्यों को लेकर डकैती डालने धनबाद पहुंचा था। 

बिहार-एमपी के आईडी मिले

एसएसपी संजीव कुमार ने बताया कि अपराधियों के पास से अलग-अलग आईडी बरामद हुई है। एक के पास से बरामद आईडी में नाम निर्मल सिंह पवार और पता इंदौर लिखा है। दूसरे के पास से मिले आधार कार्ड पर नाम गुंजन कुमार और पता- रांची लालगंज के नाम से बना हुआ है। पूछताछ में गुंजन सिंह ने अपना नाम राघव बताया है और पता लखीसराय बताया है। दूसरा अपराधी निर्मल सिंह पवार अपना नाम आसिफ बता रहा है और वह समस्तीपुर का रहने वाला है। उन्होंने पूछताछ में बताया है कि वह बेऊर जेल में बंद सुबोध सिंह के लिए काम करते हैं। वहीं जो मारा गया है उसके बारे में इन्होंने बताया है रॉबर्ट उर्फ रैबिट, लेकिन वह कहां का रहने वाला है, इसकी जानकारी इन्हें भी नहीं है।

कौन है सुबोध सिंह

बेउर में बंद सुबोध सिंह 2017 में जयपुर मानसरोवर में मुथूट फाइनांस के दफ्तर से 25 किलोग्राम सोना लूट चुका है। उस पर दो दर्जन से अधिक ज्वेलरी दुकान और बैंक लूट के अलावा कई हत्याओं के मामले दर्ज हैं। वर्ष 2019 में एक हत्या के मामले में राजीव कुमार सिंह उर्फ पुल्लू उर्फ सरदार बेउर जेल पहुंचा था। जेल में ही उसकी पहचान सुबोध से हो गई। बाद में सुबोध के साथ मिल कर राजीव लूट-डकैती गैंग का संचालन करने लगा। बताया जाता है कि अभी तक सुबोध सिंह का गैंग कर्नाटक, आंध्रप्रदेश, तमिलनाडु, बंगाल, राजस्थान, पंजाब और हरियाणा में करीब तीन क्विंटल से अधिक सोना लूट चुका है।

Find Us on Facebook

Trending News