पुलिसकर्मियों की पिटाई की खबर चलाने पर थानेदार ने पत्रकार को दी धमकी, ऑडियो वायरल

पुलिसकर्मियों की पिटाई की खबर चलाने पर थानेदार ने पत्रकार को दी धमकी, ऑडियो वायरल

SASARAM : कैमूर जिला के पुलिस टीम की रोहतास के शिवसागर थाना क्षेत्र में हुई पिटाई मामले का खबर चलाने के बाद शिवसागर के थानाध्यक्ष सुशांत कुमार मंडल ने एक पत्रकार को फोन कर परिवार को केस में फंसाने तथा ठीक कर देने की धमकी और चेतावनी वाली ऑडियो वायरल हो रहा हैं.

रोहतास जिला में एक ऑडियो तेजी से वायरल हो रहा है. जिसमें बताया जाता है कि शिवसागर के थानाध्यक्ष सुशांत कुमार मंडल एक स्थानीय पत्रकार को फोन कर उसे धमका रहे हैं. साथ ही परिवार को केस में फंसाने की बात करते सुने जा रहे हैं. दो मिनट से अधिक का वायरल इस ऑडियो में थानाध्यक्ष लगातार संबंधित पत्रकार को तुम-तड़ाक कर रहे हैं. साथ ही उसे ठीक कर देने की धमकी भी दे रहे हैं. चूंकी इस वायरल ऑडियो कि हम पुष्टि नहीं करते हैं. लेकिन पत्रकारों एवं पुलिस महकमा में यह ऑडियो तेजी से वायरल हो रहा है. मसला बुधवार के एक कांड से जुड़ा हुआ है. जब कैमूर जिला के मोहनिया थाना की पुलिस एक बालू वाले ट्रक का पीछा करते हुए रोहतास जिला में प्रवेश कर गई. इस दौरान एनएच पर शिवसागर थाना के पास भाग रहे बालू वाले ट्रक को कैमूर जिला की पुलिस ने पीछा करते हुए पकड़ लिया. लेकिन देखते ही देखते पकड़े गए बालू वाले ट्रक के समर्थन में भी बहुत सारे स्थानीय लोग एकत्र हो गए एवं कैमूर पुलिस के एक महिला अधिकारी रीतू कुमारी के अलावा अन्य पुलिसकर्मियों से बदसलूकी की जाने लगी. इस दौरान कैमूर की पुलिस जीप लगातार सायरन बजाती रही. लेकिन फिर भी कुछ लोग पुलिस जीप के ड्राइवर सहित सहित अन्य पुलिसकर्मियों की मुक्का- थप्पड़ से पिटाई करने लगे. इस दौरान एक महिला सब-इंस्पेक्टर के साथ ही बदसलूकी की गई. डेढ़ घंटे चले इस उपद्रव के दौरान बताया जाता है कि स्थानीय शिवसागर थाना की पुलिस मूकदर्शक बनी रही. अंततः कैमूर से रोहतास में प्रवेश कर गई पुलिस टीम को भाग कर अपनी जान बचानी पड़ी थी.

पुलिस की पिटाई का वीडियो हुआ था वायरल

ट्रक का पीछा करती रोहतास पहुंची कैमूर पुलिस के जवानों की पिटाई का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल होने लगा. वायरल वीडियो में पुलिसकर्मियों की पिटाई कर रहे एक शख़्स शिवसागर थानाध्यक्ष सुशांत कुमार मंडल का बेहद करीबी माना जाता है. थानाध्यक्ष तथा उनके परिवार और बच्चों के साथ उक्त शख्स की कई तस्वीरें सोशल मीडिया पर वायरल हैं. जब इस वायरल वीडियो के आधार पर संबंधित पत्रकार ने खबर चलाएं तो थानाध्यक्ष आग बबूला हो गए और एक स्थानीय संवाददाता को फोन कर लगातार धमकी देने लगे. पत्रकार और थानेदार के बीच का संवाद सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है. जिस वायरल ऑडियो में थानेदार लगातार पत्रकार को धमका रहा हैतथा उसे देख लेने की धमकी दे रहा है. यहां तक कि पत्रकार के परिवार तथा भाई को भी मुकदमे की धमकी देता सुनाई दे रहा है. 


कैमूर पुलिस की पिटाई मामले में अज्ञात पर दर्ज हुआ है केस

वारदात के दो दिन बीत जाने के बाद भी अभी तक पुलिस कर्मियों के साथ मारपीट करने वाले उपद्रवियों की गिरफ्तारी नहीं हुई है. उल्लेखनीय है कि पुलिस के साथ मारपीट की वायरल वीडियो तथा विभिन्न समाचार माध्यमों में प्रकाशित प्रसारित खबरों में भी उपद्रवियों का चेहरा साफ दिख रहा है. लेकिन फिर भी पुलिस द्वारा कोई मुकम्मल कार्रवाई नहीं किए जाने से कई सवाल खड़े हो गए हैं. जिस तरह से शिवसागर थाना के सामने ही कैमूर जिला के पुलिस के महिला अधिकारी के साथ बदसलूकी हुई और पुलिसकर्मियों की पिटाई हुई. जो बिहार पुलिस के लिए शर्मनाक है. 

 रोहतास में बालू माफिया से पुलिस की सांठगांठ की कहानी है पुरानी

  बता दें कि रोहतास जिला में बालू के अवैध कारोबार में पुलिस की संलिप्तता की खबरें पहले भी आ चुकी है. पिछले साल एक डीएसपी रैंक के अधिकारी के अलावे कई पुलिसकर्मियों पर विभागीय कार्रवाई भी हो चुकी है. इसके बावजूद आए दिन ऐसी खबरें मिलती रहती है कि बालू के अवैध कारोबार में पुलिस के अलावे सिविल प्रशासन के भी कई अधिकारियों के हाथ गीले हैं. लेकिन खबर प्रसारित किए जाने के बाद जिस तरह से थानेदार द्वारा पत्रकारो को धमकाया जा रहा है. यह जांच का विषय है. चुकी कि इस वायरल ऑडियो कि हम पुष्टि नहीं करते हैं.

 


Find Us on Facebook

Trending News