BIHAR NEWS : मुखिया प्रत्याशी के समर्थक को बदमाशों ने मारी गोली, अस्पताल में चल रहा है इलाज

BIHAR NEWS : मुखिया प्रत्याशी के समर्थक को बदमाशों ने मारी गोली, अस्पताल में चल रहा है इलाज

मुजफ्फरपुर. बिहार में इन दिनों त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव कराये जा रहे हैं. कई जगहों पर चुनाव हो चुके हैं. कई प्रत्याशी जीत चुके हैं. वहीँ कई पंचायत प्रतिनिधियों को मुंह की खानी पड़ी है. इसी बीच कई जगहों पर नामांकन का कार्य चल रहा है. उधर पंचायत चुनाव को लेकर बिहार के कई इलाकों में आपसी रंजिश देखने को मिल रहा है. जिले में कल 20 अक्टूबर को होने वाले दो प्रखंड मुशहरी और बोचहा में पंचायत चुनाव के मतदान के पूर्व संध्या जिले के बोचहा थाना क्षेत्र अंतर्गत बोचहा कर्णपुर उत्तरी पंचायत के दो मुखिया प्रत्याशी के समर्थक जनसंपर्क के दौरान दोनो तरफ से चली गोलीबारी में सुखदेव राम के पुत्र इंद्रजीत कुमार और तूफानी सहनी के पुत्र राहुल कुमार को लगी गोली. आनन-फानन में गोली लगने से दोनों घायल युवक को अस्पताल में किया भर्ती वही गांव में अफरा तफरी का माहौल बना हुआ.

इसके साथ ही दोनों का घायल अवस्था में शहर के निजी अस्पतालों में चल रहा है इलाज, जिसमें राहुल कुमार का इलाज मेडिकल कॉलेज के समीप निजी अस्पताल में चल रहा है तो वहीं दूसरी ओर इंद्रजीत कुमार का इलाज बैरिया स्थित निजी अस्पताल में चल रहा है. सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार बताया जा रहा है कि इंद्रजीत कुमार निवर्तमान मुखिया बेबी पटेल के समर्थक है, तो वहीं मुखिया प्रत्याशी रामश्रेष्ठ सहनी के समर्थक राहुल कुमार है. डॉक्टर के अनुसार इंद्रजीत को कमर के पास पीठ में गोली लागीकर पेट की तरफ आयी है, तो वही राहुल को पेट में गोली लगी है.

सूत्रों के मुताबिक बताया जा रहा है कि किसी मुखिया प्रत्याशी के समर्थकों ने बीते दिन सोमवार की देर शाम बोचहा प्रखंड के कर्णपुर उत्तरी पंचायत अंतर्गत चौपाड़ चौक पर अंधेरे में दो राउंड भय पैदा करने के लिए गोली चलायी थी, जिसके बाद खोखा चुनते हुए वहां मौजूद लोगों ने देखा था.

घटना की सूचना मिलते ही मौके पर पहुंची स्थानीय थाना की पुलिस टीम एवं वरीय पुलिस अधीक्षक जयंतकांत और घटना के जांच में जुटी. वहीं दूसरी ओर शहर के बैरिया स्थित निजी अस्पताल में भर्ती घायल इंद्रजीत कुमार से नगर डीएसपी रामनरेश पासवान ने पूछताछ की है. हांलाकि जिस प्रकार से गोलीबारी की घटना को अंजाम दिया जा रहा है, जिससे पंचायत चुनाव को लेकर किए गए पुलिस की सुरक्षा व्यवस्था की पोल खुल रही है.

मुजफ्फरपुर से अरविन्द अकेला की रिपोर्ट 


Find Us on Facebook

Trending News