बिहार का यह मदरसा मुस्लिम युवकों का करता है माइंड वॉश, बनाता है देशद्रोही, मौलवी ने सब कुछ बताया

बिहार का यह मदरसा मुस्लिम युवकों का करता है माइंड वॉश, बनाता है देशद्रोही, मौलवी ने सब कुछ बताया

MOTIHARI : मोतिहारी के ढाका  जामिया मारिया निसवा मदरसा से गिरफ्तार शिक्षक असगर अली को एनआईए ने यूएपीए के तहत गिरफ्तार किया है. भोपाल में यूएपीए के तहत दर्ज मामले में असगर अली की गिरफ्तारी हुई है. असगर अली बंग्लादेश के जमात-उल-मुजाहिद्दीन बंग्लादेश  मॉड्यूल का सदस्य है और जेएमबी से असगर अली जुड़ा हुआ है. एनआईए ट्रांजिट रिमांड पर असगर अली को अपने साथ ले गई है. बांग्लादेश का आतंकी संगठन जमात-उल-मुजाहिद्दीन है. जिससे मौलाना मुफ्ती असगर अली का तार जुड़ा हुआ है.  उम्मीद जताई जा रही है कि एनआईए के पूछताछ में कई और खुलासे हो सकते हैं. एनआईए ने मौलवी के पास से उसका एक  लैपटॉप और दो बैग को जब्त किया है. एनआईए सूत्रों  के अनुसार मौलाना मुफ्ती असगर अली मुस्लिम युवकों को ऑन लाइन माइंड वॉश काम करने का करता था और यह लगातार जिहादी बना रहा था.

एनआईए और आईबी की टीम ने मंगलवार को ढाका स्थित जामिया मारिया निसवा मदरसा के शिक्षक असगर अली को गिरफ्तार किया था. जिससे ढाका थाना के एक बंद कमरे में एनआईए ने लगभग पांच घंटे तक पूछताछ की और देर रात असगर अली को अपने साथ लेकर चली गई. असगर अली के पर्सनल लैपटॉप ओर दो मोबाइल को एनआईए ने जब्त कर लिया है. असगर अली जिला के पलनवा थाना क्षेत्र स्थित गाद सिसवनिया का रहने वाला है. उसने उत्तरप्रदेश के सहारनपुर के एक मदरसा से मौलवी तक की पढ़ाई की है और लगभग एक माह पूर्व उसने ढाका के जामिया मारिया निसवा मदरसा को ज्वाइन किया था.  जिला में जमात-उल-मुजाहिद्दीन बंग्लादेश के टेरर मॉड्यूल के सदस्य की गिरफ्तारी के बाद स्थानीय एजेंसियों के भी कान खड़े हो गए हैं.


 पटना फुलवारी शरीफ मामले में गिरफ्तार मरगूब दानिश उर्फ ताहिर से जुड़े मामले पर हाई लेवल मीटिंग की जा राही है. मिल रही जानकारी के अनुसार बिहार समेत कई राज्यों की सुरक्षा एजेंसी से जुड़े आला अधिकारी बैठक कर रहे हैं. मिल रही जानकारी के अनुसार महाराष्ट्र ATS, UP ATS, तेलंगाना ATS, NIA और RAW के अधिकारी बिहार ATS के शीर्ष अधिकारी के साथ अहम बैठक कर रहे हैं. गजवा ए हिंद ग्रुप का मुख्य हैंडलर कौन है और इसका संचालन कहा से हो रहा है, इसके साथ-साथ इसका कॉमन लिंक तलाशने का कोशिश की जा रही है.

मोतिहारी एसपी डॉ कुमार आशीष ने बताया कि लखनऊ से एनआईए की टीम आई थी और ढाका से मदरसा के शिक्षक को गिरफ्तार करके ट्रांजिट रिमांड पर लेकर जा रही है. मार्च महीने में यूएपीए के तहत मामला दर्ज हुआ था. जिसमें छह लोगों की गिरफ्तारी पूर्व में है चुकी है. असगर अली की सातवीं गिरफ्तारी है. असगर अली का तार जमात-उल-मुजाहिद्दीन बंगलादेश (जेएमबी) से जुड़ा हुआ है और पीएफआई अथवा फुलवारीशरीफ मामले में इसका कोई भीं लिंक अभी तक सामने नहीं आया है.

Find Us on Facebook

Trending News