महिला समूहों को झांसे में लेकर बैंक से लिया लाखों का लोन और सारा पैसा लेकर फरार हुए शातिर बदमाश

महिला समूहों को झांसे में लेकर बैंक से लिया लाखों का लोन और सारा पैसा लेकर फरार हुए शातिर बदमाश

SITAMADHI : बिहार के सीतामढ़ी में लोन के नाम पर फर्जीवाड़ा किए जाने का मामला प्रकाश में आया है। भोली भाली दर्जनों महिला को गुमराह करके लाखों रुपए लोन के नाम पर निकासी कर ली गई है। यह कारनामा एक प्राइवेट फाइनेंस कंपनी के नामित सदस्य और CSP के संचालक की मिलीभगत से किया गया है। 

यह पूरा मामला जिले के रून्नीसैदपुर प्रखंड के चकदोनई गांव का है। यहां भारत फाइनेंस कंपनी के द्वारा महिला समूह बना कर रोजगार के नाम पर ऋण दिया जाता है और साप्ताहिक ब्याज की वसूली की जाती है। समूह को लीड करने वाली महिला खुश्बू निशा और मो इरफान जो फाइनेंस कंपनी की ऑथराइज्ड सदस्य की रूप में थे। इनके द्वारा महिलाओं को भारत फाइनेंस कंपनी से ऋण मुहैय्या कराया जाता था। कुछ दिनों तक सब कुछ ठीक ठाक चल रहा था, लेकिन इसी दौरान भोली भाली महिलाओं से सर्वे किए जाने के नाम पर इनसे अंगूठे का निशान और कागजात लेकर लाखों रुपए लोन निकाल लिया गया। वो भी एक व्यक्ति के नाम पर तीन तीन लोन की निकासी कर ली गई। यह निकासी कंपनी के ऑथराइज्ड CSP संचालक की मिली भगत से की गई और इस फर्जीवाड़े में संलिप्त सभी लोग अब फरार हो चुके है। 

यह मामला उजागर तब हुआ जब इंडसलैंड  बैंक का नोटिस महिलाओं के घर पहुंचा। जिसके बाद गांव में हड़कंप की स्थिति उत्पन्न हो गई। आप जान कर हैरान होंगे कि लोन ऐसी महिलाओं के नाम पर ली गई है जो महिला बधिर और दिव्यांग है। जिसे दो जून की रोटी भी बामुश्किल ही मिल पाता है। सभी के सभी हैरान हैं कि मेरे हाथ मे एक रुपया भी नही मिला और कर्ज सर पर चढ़ गया ?


Find Us on Facebook

Trending News