अस्पताल में हुई शादी का वीडियो वायरल : कंपाउंडर ने लेडी डॉक्टर की भर दी मांग, जानिए क्या है पूरी सच्चाई

अस्पताल में हुई शादी का वीडियो वायरल : कंपाउंडर ने लेडी डॉक्टर की भर दी मांग, जानिए क्या है पूरी सच्चाई

SAMASTIPUR : अस्पताल जहां मरीजों का इलाज का किया जाता है, उसी अस्पताल का एक वीडियो शहर में तेजी से वायरल हो रहा है। इस वीडियो में अस्पताल के एक चैंबर में पेशे से कंपाउंडर युवक यहां काम करनेवाली लेडी डॉक्टर की मांग में सिंदूर डालते नजर आ रहा है। इस घटना का वीडियो इंटरनेट मीडिया पर वायरल है। लोग इसे चटखारे लेकर पढ़ और देख रहे हैं तथा शेयर कर रहे हैं। घटना की वजह से पीड़ित डाॅक्टर और उनके स्वजनों की परेशानी बढ़ गई है। लेकिन इस वीडियो की जो सच्चाई सामने आई है, उसके बाद कंपाउंडर युवक की हरकतों को लेकर सवाल उठाने लगे हैं।

मामला दलसिंहसराय से जुड़ा है। यहां के पीएचसी में कार्यरत लेडी डॉक्टर अपना प्राइवेट हॉस्पीटल भी चलाती है। यहां की व्यवस्था की देखरेख के लिए बंबइया गांव निवासी लालबाबू महतो के पुत्र सुमित कुमार को बतौर कंपाउंडर बहाल किया गया था। सबकुछ सही ही चल रहा था। अचानक महिला डॉक्टर ने अपने कंपाउंडर को काम से निकाल दिया। इससे वह नाखुश चल रहा था।

बदनाम करने के लिए की शर्मनाक हरकत

काम से निकाले जाने से नाराज कंपाउंडर सुमित ने लेडी डॉक्टर को बदनाम करने के लिए एक साजिश रची। कुछ दिन पहले वह डॉक्टर के चैंबर में घुस गया और उसकी मांग में सिंदूर भर दिया। इस दौरान सुमित ने मांग भरने के बाद डॉक्टर के साथ अपना एक वीडियो बनाया और उसे अपने ही इंटरनेट मीडिया अकाउंट से पोस्ट कर दिया। बहुत जल्द ही इस घटना का वीडियो वायरल होने लगा। टॉप ऑफ द ट्रेंड में आने के बाद लोग इसे मजे लेकर देखने और दूसरे को फारवर्ड करने लगे। डॉक्टर और कंपाउंडर को लेकर तरह-तरह की चर्चाएं होने लगीं। वीडियो के कारण डॉक्टर और उनके स्वजनों की बदनामी होने लगी। परेशान होकर पीड़ित महिला डॉक्टर ने थाना में सुमित के खिलाफ एक आवेदन दिया है। जिसमें उन्होंने सख्त कार्रवाई की मांग की है। 

फरार है आरोपी कंपाउंडर

मामले में थानाध्यक्ष से बात की गई तो उन्होंने आवेदन मिलने की बात स्वीकार की। उन्होंने कहा कि घटना की जांच की जा रही है। इसके बाद आगे की कार्रवाई की जाएगी। पहले इंटरनेट मीडिया और बाद में मुख्यधारा की मीडिया में इसकी खबर आने के बाद जिला पुलिस के मुखिया एसपी मानवजीत सिंह ढिल्लो ने इसका संज्ञान लिया है। उन्होंने आरोपित के खिलाफ मामला दर्ज करते हुए कार्रवाई करने का आदेश संबंधित थाने को दिया है। वहीं दूसरी ओर आरोपित कंपाउंडर फरार बताया जा रहा है।


Find Us on Facebook

Trending News