पार्टी में जमकर चला शराब का दौर, वीडियो वायरल होने पर मुखिया पति ने बताया विरोधियों की साजिश

पार्टी में जमकर चला शराब का दौर, वीडियो वायरल होने पर मुखिया पति ने बताया विरोधियों की साजिश

HAJIPUR : खबर वैशाली जिले के महनार के गोरीगामा पंचायत से है. जहां मुखिया बने संगीता सिंह के पति राजेश कुमार सिंह और खन्ना सिंह पत्नी के मुखिया बनने की खुशी में पहले एक पार्टी का आयोजन किया. पार्टी में जमकर शराब का दौर चला.  इतना ही नहीं बजाता इसका वीडियो भी किसने बना डाला और सस्ती लोकप्रियता के लिए शराबबंदी वाले बिहार में खुलेआम शराब पार्टी के वीडियो को अपने दोस्तों के पास भेज भी दिया गया।

 वीडियो वायरल होने के बाद जब मामला थाने पहुंचा तो पुलिस ने वीडियो के आधार पर मामला भी दर्ज कर लिया. पुलिस वायरल वीडियो के आधार पर मामले की जांच कर रही है. इसके बाद शराब की पार्टी करने वाले राजेश कुमार सिंह के अचानक सुर ही बदल गए. हाजीपुर पहुंचे एक निजी कार्यक्रम में राजेश कुमार सिंह ने कहा कि इस वीडियो में केवल कुछ लड़के गाना बजा कर नाच रहे हैं. जश्न का कोई माहौल नहीं है। एक फ्रूट बियर किसी लड़के के हाथ में है। अगर वह जश्न का माहौल रहता तो जितने भी लोग होते हैं तो सभी के हाथ में गिलास बीयर होता. यह विरोधियों के द्वारा फसाने का एक षड्यंत्र है।

शराब पार्टी को बताया  गलत

 मुखिया पति राजेश कुमार सिंह ने आगे कहा कि हालांकि जश्न का माहौल था. लेकिन शराब का जश्न नहीं था. जीत के माहौल का जश्न था. जो हाथ में दिख वह फ्रूट वियर था. लाल रंग का डब्बा था. उस तरह के बाजार में सैकड़ों तरह के पदार्थ मिलते हैं. जिस तरह के पदार्थ को कोई बीयर कह दे या दारू कह दे यह अपने अपने कहने और सोचने का है. उस विभिन्न तरह का पेय पदार्थ अलग डब्बे में ना हो तो माना जाए. लेकिन मैं यह साबित कर दूंगा कि उस तरह के लाल डब्बे फ्रूट बीयर के थे. प्रशासन मुस्तैदी से इसकी जांच करें दूध का दूध और पानी का पानी हो जाएगा. 

विरोधियों की साजिश

वही वायरल वीडियो के सवाल पर राजेश कुमार सिंह ने कहा कि वायरल विरोधी कर रहा है. विरोधियों का काम है। अगर शराब की कोई महफिल रहती तो उसमें विभिन्न लोगों के हाथ में गिलास रहता. विभिन्न लोगों के हाथ में शराब होता. 20 से 25 लोगों में 1 के हाथ में फ्रूट बीयर है. राजेश कुमार सिंह यही नही रुके उन्होंने खुद को पाक साफ बताते हुए कहाँ की हम लोग शराबबंदी के प्रचार में लगे हुए हैं. शराबबंदी का प्रचार हम लोगों के द्वारा किया जाता है. हमारे पंचायत में शराबबंदी रहे. जो दूसरे लोग शराब या शराब बनाने का काम करते हैं उन पर कार्रवाई करते हैं विरोधियों के द्वारा दुष्प्रचार किया जा रहा है।


Find Us on Facebook

Trending News