ये चार साल की नौकरी, कोई नौकरी थोड़ी-ही है जनाब... जब बिहार जल रहा था तो चुप क्यों थे मुख्यमंत्री, देना होगा जवाब

ये चार साल की नौकरी, कोई नौकरी थोड़ी-ही है जनाब... जब बिहार जल रहा था तो चुप क्यों थे मुख्यमंत्री, देना होगा जवाब

PATNA : बिहार में अग्नीपथ योजना को लेकर विपक्षी विधायकों द्वारा विरोध प्रदर्शन विधानसभा सत्र के तीसरे दिन भी जारी रहा। आज सदन की कार्यवाही शुरू होने से पहले ही भाकपा माले के विधायक सदन परिसर में हंगामा करने लगे। इस दौरान भाकपा माले विधायकों ने कहा कि जिस तरह से बिहार की नीतीश सरकार इस मामले में चुप्पी साधे हुए हैं वह सही नहीं है। उन्हें इस विषय पर अपनी चुप्पी तोड़नी होगी।

 केंद्र की मोदी सरकार की तानाशाही फैसले के खिलाफ बिहार के चीन की चुप्पी आश्चर्यचकित करने वाली है। विधायक महबूब आलम  ने कहा कि अग्नीपथ योजना को लेकर पूरे बिहार में आगजनी की घटना हो रही थी बिहार के मुख्यमंत्री चुप्पी साध कर बैठे हुए थे। अब उन्हें बताना होगा कि योजना पर उनका नजरिया क्या है। वह युवाओं के भाग्य से खिलवाड़ करने के फैसले से सहमत हैं या नहीं।

 भाकपा माले विधायक ने कहा कि यह 4 साल की नौकरी कोई नौकरी नहीं है यह सिर्फ युवाओं के साथ छलावा है जो केंद्र की तानाशाही सरकार द्वारा की जा रही है जब तक केंद्र सरकार अपने फैसले को वापस नहीं लेती तब तक यह विरोध खत्म नहीं होगा



Find Us on Facebook

Trending News