नशामुक्ति को लेकर कल पटना के गांधी मैदान में 'पटना हाफ मैराथन' का आयोजन, 9 हजार प्रतिभागी होंगे शामिल

नशामुक्ति को लेकर कल पटना के गांधी मैदान में 'पटना हाफ मैराथन' का आयोजन, 9 हजार प्रतिभागी होंगे शामिल

पटना. नशामुक्ति के बड़े स्तर पर प्रचार-प्रसार के लिए मद्य-निषेध, उत्पाद एवं निबंधन विभाग द्वारा कल पटना के गांधी मैदान में ‘‘पटना हाफ मैराथन’’ का आयोजन किया जाएगा। इसमें 9 हजार प्रतिभागियों के भाग लेने की संभावना है। इसको लेकर पटना डीएम चंद्रशेखर सिंह व एसएसपी मानवजीत सिंह ढिल्लो ने कहा कि पटना हाफ मैराथन-2022 का सफल आयोजन किया जाएगा। उत्कृष्ट भीड़ प्रबंधन, सुगम यातायात तथा त्रुटिहीन विधि-व्यवस्था संधारण जिला प्रशासन की सर्वोच्च प्राथमिकता है। इसके लिए दण्डाधिकारियों एवं पुलिस पदाधिकारियों की प्रतिनियुक्ति की गई है। सम्पूर्ण मैराथन रूट को प्रशासनिक दृष्टीकोण से तीन जोन में विभाजित किया गया है।

सबसे पहले 21 किलोमीटर का मैराथन होगा। इसमें भाग लेने वाले प्रतिभागियों को सुबह 05.30 बजे हरी झंडी दिखाकर गांधी मैदान के गेट नं.-01 से रवाना किया जाएगा। इसमें 21 किम यात्रा निर्धारित है। निर्धारित रूट- गांधी मैदान गेट नं.-01 से आयुक्त कार्यालय से जेपी गंगा पथ होते हुए रोटरी गोलम्बर से अटल पथ पर से 10.5 किमी यू टर्न लेते हुए उसी रास्ते से पुनः गांधी मैदान के गेट नं.-01 तक वापस फिनिशिंग लाईन तक होगी।

दूसरा 10 किमी का मैराथन होगा। इसमें भाग लेने वाले प्रतिभागियों को पूर्वाह्न 6.45 बजे हरी झण्डी दिखाकर गांधी मैदान के गेट नं0-01 से रवाना किया जाएगा। निर्धारित रूट- गांधी मैदान गेट नं0-01 से आयुक्त कार्यालय से जेपी गंगा पथ पर 5 कि.मी. यू टर्न लेते हुए उसी रास्ते से पुनः गाँधी मैदान गेट नं0-01 तक वापस फिनिशिंग लाईन तक है।

अंतिम 5 किमी का मैराथन होगा। इसमें भाग लेने वाले प्रतिभागियों को पूर्वाह्न 7.45 बजे हरी झण्डी दिखाकर गाँधी मैदान के गेट नं0-01 से रवाना किया जाएगा। निर्धारित रूट-गाँधी मैदान गेट नं0-01 से आयुक्त कार्यालय से जेपी गंगा पथ पर 2.5 किमी यू टर्न लेते हुए उसी रास्ते से पुनः गाँधी मैदान गेट नं0-01 तक वापस फिनिशिंग लाईन तक है।

इसको लेकर डीएम डॉ. सिंह ने पदाधिकारियों को निर्देश दिया कि सभी प्रतिनियुक्त दण्डाधिकारी, पुलिस पदाधिकारी एवं पुलिस बल ससमय अपने प्रतिनियुक्ति स्थल पर पहुंच जाएंगे तथा तब तक अपने प्रतिनियुक्ति स्थल पर मुस्तैद रहेंगे जब तक कि कार्यक्रम पूरी तरह से समाप्त न हो जाए।

 

Find Us on Facebook

Trending News