सीएम योगी आदित्यनाथ का बड़ा फैसला,अब एक भी कोविड मरीज अस्पताल नहीं लौटाएगा, सरकारी पैसे पर होगा इलाज

सीएम योगी आदित्यनाथ का बड़ा फैसला,अब एक भी कोविड मरीज अस्पताल नहीं लौटाएगा, सरकारी पैसे पर होगा इलाज

LUCKNOW : मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने बेड की कमी दिखाकर कोविड पॉजिटिव मरीज का इलाज न किए जाने की घटनाओं पर कड़ी नाराजगी जताई है। उन्होंने सभी अस्पतालों को सख्त हिदायत दी है कि कोई भी अस्पताल किसी मरीज को वापस नहीं भेजेगा। सीएम योगी ने कहा कि अगर सरकारी अस्पताल में बिस्तर नहीं मिलता है तो सरकार अपने खर्च पर प्राइवेट अस्पताल में कराएगी। सीएम योगी ने आदेश दिया है कि संक्रमण से होनेवाली मौत के बाद अंतिम संस्कार के लिए किसी प्रकार का शुल्क नहीं लिया जाएगा। 

मुख्यमंत्री रविवार शाम कोविड-19 प्रबंधन के संबंध में मंडलायुक्त, एडीजी, आईजी व डीआईजी के साथ समीक्षा बैठक कर रहे थे। उन्होंने कहा कि प्रदेश के किसी जिले में बेड का अभाव नहीं है। फिर भी कतिपय स्थानों से बेड के अभाव में मरीजों को उपचार से वंचित करने की घटनाएं संज्ञान में आई हैं। यह संवेदनहीनता है। उन्होंने कहा है कि अगर सरकारी अस्पताल में बेड रिक्त नहीं हैं तो निजी चिकित्सालय में इलाज की सुविधा दिलाई जाए। राज्य सरकार नियमानुसार उसका भुगतान करेगी। मंडलायुक्त स्वयं इस व्यवस्था की मॉनिटरिंग करते हुए प्रभावी ढंग से लागू कराएं। 

डीएम और सीएमएचओ होंगे जिम्मेदार

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कोविड प्रबंधन के लिए गठित टीम11 को निर्देश दिया कि बेड के अभाव में मरीज को इलाज से वंचित किए जाने पर जिले के डीएम और सीएमएचओ जिम्मेदार होंगे। उन्होंने कहा कि टेस्ट हो या ट्रीटमेंट, राज्य सरकार ने सभी के लिए शुल्क की दरें तय कर दी हैं। समस्त जिला प्रशासन निर्धारित दरों का अनुपालन सुनिश्चित कराएं। किसी भी अस्पताल से यदि अधिक शुल्क लेने की शिकायत मिली तो उनके विरुद्ध महामारी एक्ट के अंतर्गत कार्रवाई होनी तय है। उन्होंने कहा कि ऐसे सभी हॉस्पिटल जहां कोरोना संक्रमित मरीजों का इलाज हो रहा है, वहां  दिन में दो बार अस्पताल में रिक्त बेड का विवरण सार्वजनिक किया जाए।

सरकारी खर्च पर अंतिम संस्कार

मुख्यमंत्री ने कहा कि कोविड हॉस्पिटल में होने वाली हर मृत्यु पर संबंधित परिजनों की सहमति प्राप्त कर सरकारी खर्च पर अंत्येष्टि कराई जाए। मृतक के परिजनों के साथ संवेदनशील व्यवहार हो। अंत्येष्टि संस्कार में कोविड प्रोटोकॉल का पालन किया जाए।

Find Us on Facebook

Trending News