UP NEWS: निजी अस्पताल में बड़ा हेरफेर, बेटे ने लिया जन्म पर प्रशासन ने गोद में थमा दी बेटी, मच गया हंगामा

UP NEWS: निजी अस्पताल में बड़ा हेरफेर, बेटे ने लिया जन्म पर प्रशासन ने गोद में थमा दी बेटी, मच गया हंगामा

KUSHINAGAR: देश में भले ही बेटे और बेटियों को एक समान दर्जा देने के लिए कई तरह की कवायद चल रही हो। मगर सच्चाई तो यही है कि 21वीं सदी में भी बेटों को ऊपर का दर्जा और बेटियों को दोयम दर्जे का माना जाता है। शहर में भले ही यह प्रचलन कम हो गया हो, मगर गांव, देहात और सुदूरवर्ती इलाकों में यह प्रथा बदस्तूर जारी है।

इसी बीच उत्तर प्रदेश के कुशीनगर से एक ऐसा मामला सामने आया है, जहां निजी अस्पताल में बेटे के जन्म के बाद अस्पताल प्रशासन ने बड़ा हेरफेर कर दिया। नवजात को उन्होनें अपने पास रख लिया और प्रसूता की गोद में बेटी थमा दी। जिसके बाद तो जैसे हड़कंप ही मच गया। जनपद के कप्तानगंज कस्बे के एक प्राइवेट अस्पताल में प्रसव के बाद नवजात शिशु को बदल देने का आरोप लगाते हुए परिजनो ने हंगामा शुरू कर दिया है। हंगामा इतना बढ़ गया कि मौके पर स्थानीय पुलिस को बुलाना पड़ा, जिसके बाद जांच की जा रही है।

प्राप्त जानकारी के मुताबिक कप्तानगंज थाना क्षेत्र के ग्राम सभा भड़सर के करइलिया टोला निवासी संजय निषाद की पत्नी राधिका को प्रसव हेतु कस्बे के एक निजी अस्पताल में भर्ती कराया गया। जहां प्रसव होने के बाद जच्चा-बच्चा की हालत गंभीर बताकर गोरखपुर रेफर कर दिया गया। परिजनों के मुताबिक राधिका ने पुत्र को जन्म दिया था। परंतु अस्पताल के लोगों ने बदल कर दूसरे की पुत्री को दे दिया है। कप्तानगंज के निजी अस्पताल पर हंगामा शुरू होने पर स्थानीय पुलिस पहुंच गयी है लोगों को समझा-बुझाकर शांत कराने का प्रयास चल रहा है। अभी अस्पताल के तरफ से कोई सफाई या जानकारी सामने नहीं आयी है, और बाहर लोगों की भीड़ जमा हो गई है।

Find Us on Facebook

Trending News