मोतिहारी सीट को लेकर लड़ गई RJD और रालोसपा, अपने आदमी को सेट करने दिल्ली दरबार पहुंचे कुशवाहा

 मोतिहारी सीट को लेकर लड़ गई RJD और रालोसपा, अपने आदमी को सेट करने दिल्ली दरबार पहुंचे कुशवाहा

न्यूज4नेशन डेस्क- चुनावी समर के नजदीक आते ही महागठबंधन में सीट शेयरिंग को लेकर खींचतान शुरू हो गई है.
 
 मोतिहारी में फिजा बनाने से रालोसपा को रोका गया

एनडीए से मोह भंग होने के बाद महागठबंधन में शामिल हुए रालोसपा वाले उपेन्द्र कुशवाहा और आरजेडी के बीच सीट को लेकर पेंच फंस गया है. मोतिहारी सीट को लेकर दोनों आमने-सामने हैं. उपेन्द्र कुशवाहा की पार्टी मोतिहारी से अपना कैंडिडेट उतराना चाहती थी इसको लेकर मोतिहारी में कुछ महीनों से रालोसपा प्रचार फिजा बनाने में लगी थी. लेकिन आरजेडी के टॉप लेवल के नेताओं ने रालोसपा को सख्त लहजे में प्रचार करने से मना करवा दिया है.

उपेन्द्र कुशवाहा ने अहमद पटेल से मुलाकात
 
मोतिहारी सीट को लेकर उपेन्द्र कुशवाहा छटपटाहट में हैं. कुशवाहा अपने खासम खास आदमी को मोतिहारी से लड़वाना चाहते हैं. इसको लेकर वो आरजेडी को दरकिनार कर कांग्रेस के अहमद पटेल से मीटिंग कर सबकुछ सेट करने की फेर में लगे हैं. इसको लेकर उपेन्द्र कुशवाहा ने अहमद पटेल से मुलाकात भी की है.

दोनों की रार में किसको मिलेगा फायदा
 
केंद्रीय कृषि मंत्री राधामोहन सिंह की इस सेटिंग की चर्चा पूर्वी चंपारण संसदीय क्षेत्र में आम है. राधामोहन के नजदीकी लोग ऑफ द रिकार्ड इसकी तसदीक भी कर रहे हैं. उनकी मानें तो राधामोहन सिंह ने केंद्रीय मंत्रिमंडल के एक जूनियर साथी की गाढ़े वक्त में कई दफे मदद की थी. मंत्रिमंडल के उस पुराने साथी की सियासी राहें जुदा हो गयी हैं लेकिन बंद कमरे का संबंध बरकरार है. नरेंद्र मोदी मंत्रिमंडल के सदस्य रहे नेताजी जिस दौर में प्रधानमंत्री और अमित शाह से मिलने का समय मांग रहे थे उस दौर में भी राधामोहन सिंह से उनकी लंबी बातें हो रही थी. जानकार बताते हैं कि इसी संबंध का ये नतीजा निकला कि महागठबंधन में पहुंचे नेताजी ने राधामोहन की पूर्वी चंपारण लोकसभा सीट को अपने लिए मांग लिया है. 

Find Us on Facebook

Trending News