सदन नहीं पहुंचे विजय कुमार सिन्हा, समर्थन में उतरा पूरा विपक्ष, काली पट्टी लगाकर किया मुख्यमंत्री का विरोध

सदन नहीं पहुंचे विजय कुमार सिन्हा, समर्थन में उतरा पूरा विपक्ष, काली पट्टी लगाकर किया मुख्यमंत्री का विरोध

PATNA : बिहार विधानसभा में कल जिस तरह से मुख्यमंत्री नीतीश कुमार विधानसभा अध्यक्ष विजय कुमार सिन्हा के बीच सदन की कार्रवाई के दौरान बहस हुआ उसके बाद बिहार की राजनीति एक बार फिर से गरमा गई है। जहां इस मुद्दे को लेकर जदयू और भाजपा एक दूसरे के आमने सामने आ गए हैं। वहीं मुख्य विपक्षी दल राजद भी लगातार हमलावर है। 

सोमवार को जिस तरह से सदन के अंदर हंगामा हुआ उसका असर मंगलवार को भी नजर आया जब इस पूरे घटना के बाद विधानसभा अध्यक्ष विजय कुमार सिन्हा सदन नहीं पहुंचे। मंगलवार को उनकी जगह प्रेम कुमार को कार्यवाहक अध्यक्ष की जिम्मेदारी संभालनी पड़ी।  सोमवार को भी वह बहस के बाद सदन की कार्रवाई अधूरा छोड़ कर चले गए थे। आज सदन की कार्यवाही शुरू होने के साथ  ही विपक्ष हंगामा करने लगा। जिसके बाद सदन की कार्यवाही को भोजन तक के लिए स्थगित कर दिया गया है 


काली पट्टी बांधकर पहुंचा पूरा विपक्ष

इस पूरी घटना के बाद बिहार का पूरा विपक्ष अब विजय कुमार सिन्हा के समर्थन में आ गया है मंगलवार को घटना के विरोध में विपक्ष के सारे सदस्य काली पट्टी बांधकर विधानमंडल पहुंचे जहां उन्होंने मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के खिलाफ नारेबाजी की और बिहार में तानाशाही शासन चलाने का विरोध किया। 
विपक्षी सदस्यों ने कहा कि मुख्यमंत्री जिस तरह से कल विधानसभा के अंदर अध्यक्ष के भी शब्दों का इस्तेमाल कर रहे थे वह कहीं से भी एक मुख्यमंत्री को शोभा नहीं देता है। अध्यक्ष किसी भी सदन का प्रमुख होता है। उनका सम्मान करना सबके लिए जरुरी है।

Find Us on Facebook

Trending News