विकासशील छात्र मोर्चा का पटना में हल्लाबोल, कहा- संतोष गंगवार का बयान युवाओं के लिए अपमानजनक, मांफी मांगे केंद्रीय मंत्री

विकासशील छात्र मोर्चा का पटना में हल्लाबोल, कहा- संतोष गंगवार का बयान युवाओं के लिए अपमानजनक, मांफी मांगे केंद्रीय मंत्री

पटना:  लॉ की छात्रा के साथ दुष्कर्म के आरोपी बीजेपी नेता स्वामी चिन्मयानंद तथा उत्तर भारतीयों पर बेतुका बयान देने वाले केंद्रीय मंत्री संतोष गंगवार का पुतला दहन कर जोरदार प्रदर्शन किया गया। विकासशील छात्र मोर्चा के प्रदेश अध्यक्ष विकास कुमार बॉक्सर के नेतृत्व में सैकड़ों छात्र-छात्राओं ने पटना के कॉलेज ऑफ़ कॉमर्स के सामने प्रदर्शन किया।

इस अवसर पर विकासशील छात्र मोर्चा के प्रदेश अध्यक्ष विकास कुमार बॉक्सर ने मांग किया कि स्वामी चिन्मयानंद को अत्यंत शीघ्र गिरफ्तार कर जेल भेजा जाए तथा हर हाल में पीड़िता के लिए न्याय सुनिश्चित किया जाए। उन्होंने कहा कि विकासशील छात्र मोर्चा संतोष गंगवार द्वारा उत्तर भारतीयों पर किए गए अपमानजनक टिपण्णी के खिलाफ प्रदर्शनरत है। हम उत्तर भारतीयों तथा देश के बेरोजगार छात्र/युवाओं का अपमान नहीं सहेंगे। संतोष गंगवार जैसे भाजपा के मंत्रियों ने आज उत्तर भारत मे रहने वाले करोड़ों छात्र और युवाओं का यह कहकर अपनाम किया है कि देश मे नौकरी कि कमी नहीं है लेकिन उत्तर भारतीयों में योग्ता कि कमी है। इसके लिए बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार को शर्म आनी चाहिए कि वे ऐसे पार्टी से गठबंधन करके रखे हुए है,जो उनके बिहार के युवा और छात्र को आयोग्य कहकर अपमानित करने का काम करते हैं।

उन्होंने कहा कि भाजपा के वरिष्‍ठ नेता स्वामी चिन्मयानंद के कुकृत्य के बाद तुरंत उनकी गिरफ्तारी कर  पीडिता को न्याय मिले। हमारे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ‘बेटी पढ़ाओ और बेटी बचाओ’ का नारा देते है, वहीं दूसरी ओर भाजपा के बड़े बड़े नेता चिन्मयानंद जैसे ढोंगी बाबा कई लड़कियों का यौन शोषण कर उनके इज्ज़त को उछालने का काम करते हैं। बावजूद इसके न ही उनपर कोई मुकदमा दर्ज होता है और न हीं उसे जेल भेजा जाता है। विकासशील छात्र मोर्चा देश के प्रधानमंत्री से यह मांग करती है कि दुष्कर्म के आरोपी चिन्मयानंद जैसे बाबाओं पर कठोर कार्रवाई हो। साथ ही ऐसे ढ़ोंगियों का समाज से बहिष्कार करना चाहिए।

वहीं, छात्र मोर्चा के प्रधान महासचिव सागर उपाध्याय में कहा कि दुष्कर्म के आरोप में आम आदमी की गिरफ्तारी 1 घंटे के अंदर ली जाती है फिर चिन्मयानंद की गिरफ्तारी अभी तक क्यों नहीं हुई है। इसका जवाब केंद्र सरकार को देना चाहिए और साथ ही संतोष गंगवार को यह बताना चाहिए कि जिन उत्तर भारतीयों के वोट पर वह केंद्रीय मंत्री बने हुए हैं, उत्तर भारतीयों का अपमान करना कहां तक जायज है। अगर सही में उत्तर भारतीयों में योग्यता की कमी है तो उसका जिम्मेदार कौन है। 

इस अवसर पर छात्र मोर्चा के प्रदेश प्रधान महासचिव सागर कुमार ,प्रदेश कोषाध्यक्ष आकाश सिंह, प्रदेश प्रवक्ता राहुल मंडल, पाटलिपुत्र विश्विद्यालय अध्यक्ष दुर्गेश तिवारी, राहुल कुमार, विवेक कुमार, अर्चना कुमारी, तृषा कुमारी, कृति कुमारी, प्रीति कुमारी, सिमरन कुमारी, सत्यम कुमार, आदित्य कुमार, अविनाश कुमार तथा मोनू कुमार सहित सैकड़ों छात्र-छात्राओं ने प्रदर्शन किया।

Find Us on Facebook

Trending News