प.चंपारण बना कुटीर उद्योग का हब, सीएम ने कहा प्रवासियों ने लॉकडाउन को अवसर में बदला

 प.चंपारण बना कुटीर उद्योग का हब, सीएम ने कहा प्रवासियों ने लॉकडाउन को अवसर में बदला

बेतिया। प. चंपारण के चनपटिया बाजार समिती मे जिला औद्योगिक नवप्रवर्तन योजना के तहत लॉकडाउन मे बिहार आए प्रवासी द्वारा लगाए गए उद्योगों का निरीक्षण करने के लिए बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार पहुंचे। इस दौरान उनके साथ  उपमुख्यमंत्री सहित बिहार के कई वरीय अधिकारी मौजूद थे।  मुख्यमंत्री ने कहा बिहार की नई औद्योगिक नीती से छोटे छोटे उद्योग धंधो को बढ़ावा मिलेगा। साथ ही नया रोजगार के अवसर भी मिलेगा। इस दौरान यहां लगाए गए 28 उद्योगों का एक एक कर निरीक्षण किया।  निरीक्षण के दौरान जिला पदाधिकारी कुन्दन कुमार ने यहा लगाए गए उद्योगों के बारे में बताया। जिसको लेकर सीएम नीतीश काफी खुश नजर आए। 

नीतीश कुमार ने बताया कि लॉकडाउन में बाहर से अपने घर लौटे लोगों के लिए हमने घोषणा की थी कि उन्हें अपने घर के पास रोजगार की सुविधा उपलब्ध कराई जाएगी।  जिला प्रशासन व सरकार भी इन्हे हर वह सुविधा दी जो इन्हे जरूरी था। जिसका फायदा उठाकर इन सभी प्रवासी मजदूरों ने अवसर का लाभ उठाया। सीएम ने कहा कि हमें खुशी है कि इन लोगों के लिए घर में रोजगार का काम करने का मौका देने में कामयाब हुए। 

 मुख्यमंत्री ने पत्रकारों से बात करते हुए कहा कि बाहर से आए लॉक डाउन के लिए हमलोगों ने औद्योगिक नीती बनाया है जिससे उन्हे हर प्रकार से सहायता मिलेगी जो यहा उद्दोग लगाए है।  उन्होने बताया कि इस तरह से यहा नया रोजगार का अवसर भी बनेगा। लोग रोजगार की तलाश मे अब बाहर नही जाएँगे |उन्होने कहा की अभी बिहार के हर जिला में प्रवासी मजदूरनया नया उद्योग लगा रहे हैंं। उन्होने कहा की बिहार मे नई टेक्नोलौजी के तहत आईटीआई , पोलेटनिक मे पढ़ रहे छात्रों को भी अवसर मिलेगा।| इससे उद्दोग का अवसर बढ़ेगा। उन्होंने बताया कि सात निश्चय 2 में इस बात का ख्याल रखा जा रहा है कि अधिक से अधिक रोजगार के अवसर उपलब्ध हो।

Find Us on Facebook

Trending News