यह कैसी शराबबंदी! होमगार्ड जवान ही निकला शराब कारोबारी, ड्यूटी के दौरान भी बेचता था शराब, टीम गठित कर की गई गिरफ्तारी

यह कैसी शराबबंदी! होमगार्ड जवान ही निकला शराब कारोबारी, ड्यूटी के दौरान भी बेचता था शराब, टीम गठित कर की गई गिरफ्तारी

AURANGABAD: बिहार में शराबबंदी कानून लागू है, यह किसी के लिए नई बात नहीं है। हालांकि इस कानून के लागू होने के बावजूद बिहार में अवैध तरीके से शराब का कारोबार जारी है, यह बात भी किसी से छुपी नहीं है। इस मामले में विपक्ष के मंत्री सहित नेता लगातार ही सवाल उठाते रहे हैं, मगर इस पर कुछ कड़ाई नहीं की गई। आलम यह है कि बिहार पुलिस पर ही शराब माफियाओं से सांठगांठ कर शराब बेचने का आरोप लगता रहा है। इसी बीच औरंगाबाद से चौंका देने वाली खबर सामने आई है, जहां होमगार्ड जवान को शराब बेचते गिरफ्तार किया गया है।

बिहार में भले ही शराब बेचने, खरीदने और पीने पर पूरी तरह से पाबंदी हो, लेकिन कानून का पालन करवाने वाली पुलिस खुद की कानून की धज्जियां उड़ा रही है। जिले के उपहारा थाना क्षेत्र के ग्रामीणों ने खुलासा किया है कि यहां का एक होमगार्ड जवान ही शराब के अवैध धंधे में लिप्त है। उसपर भी तुर्रा यह है कि उक्त होमगार्ज जवान ड्यूटी के दौरान भी शराब बेचने का कारोबार बदस्तूर जारी रखता है। इस मामले की पुष्टि होते ही उपहारा थानाध्यक्ष रामराज सिंह ने एक पुलिस टीम गठित की और जवान को गिरफ्तार करने के लिए जाल बिछाया। इस कार्रवाई में गुरूवार को उपहारा थानाक्षेत्र के हमीदनगर गांव निवासी जवान रामानुज राम उर्फ रामानुज पासवान को घर से ही गिरफ्तार कर लिया गया। जवान के पास से 7 लीटर महुआ शराब भी बरामद की गई है। हालांकि पुलिस की भनक लगते ही जवान ने लगभग 40 लीटर शराब को छुपा दिया। जिसके लिए छापेमारी की जाएगी।


इस संबंध में बताया जाता है कि उपहारा थाना क्षेत्र के हमीदनगर गांव निवासी जवान रामानुज राम उर्फ रामानुज पासवान हमीदनगर बराज पर ही कई वर्षों से ड्यूटी करता था। जहां ड्यूटी के दौरान ही शराब का कारोबार करता था। जिसकी सूचना पर उपहारा थानाध्यक्ष रामराज सिंह ने एक पुलिस टीम गठित कर जाल बिछाया और उसे गिरफ्तार कर जेल भेज दिया। सूत्रों की माने तो उक्त होमगार्ड के जवान पूर्व से भी शराब कारोबार करता था, लेकिन पुलिस गिरफ्त से बाहर था।

Find Us on Facebook

Trending News