कब होगी गिरफ्तारी? बिल्डर ऋषभ सिन्हा व बाउंसरों ने युवक पर किया था जानलेवा हमला, केस दर्ज होने के बाद भी पुलिसिया कार्रवाई 'शून्य'

कब होगी गिरफ्तारी? बिल्डर ऋषभ सिन्हा व बाउंसरों ने युवक पर किया था जानलेवा हमला, केस दर्ज होने के बाद भी पुलिसिया कार्रवाई 'शून्य'

पटना. राजधानी पटना में बिल्डरों ने आतंक मचा रखा है। ग्राहकों को धोखा देकर जमकर कमाई कर रहे। दूसरी तरफ पैसे के बल पर वैसे बिल्डर दबंगई व गुंडई भी कर रहे। पटना के आसपास बिहटा -दानापुर व नौबतपुर इलाके में ऐसे बिल्डर कुकुरमुत्ते की तरह हैं। ऐसे बिल्डर न सिर्फ प्लॉट-फ्लैट का झांसा देकर करोड़ों की ठगी कर रहे बल्कि जान लेने पर भी तुले हुए हैं। अवैध कमाई के बूते बिल्डर साथ में दर्जनों बाउंसर रखते हैं और किसी को कभी भी पीट दे रहे। वहीं पुलिस कार्रवाई के नाम पर सिर्फ खानापूर्ति करती है। पटना के यूथ होम्स डेवलपर्स के मालिक पर एक बार फिर से जानलेवा हमला करने का केस दर्ज हुआ। पंद्रह दिन बीत गये लेकिन पुलिस ने अब तक बिल्डर को गिरफ्तार करने में नाकाम रही है। बता दें, बिल्डर पर पहले से भी पटना के कई थानों में केस दर्ज है। 

कब होगी गिरफ्तारी

ऐसा ही एक मामला पटना के रूपसपुर थाना क्षेत्र में घटी । पटना के यूथ होम्स डेवलपर्स के मालिक ने अपने बाउंसरों के साथ मिलकर एक शख्स की जमकर पिटाई कर दी थी। पीड़ित युवक ने थाने में आवेदन दिया था। इस मामले में बिल्डर ऋषभ सिन्हा के खिलाफ जानलेवा हमला करने का केस दर्ज किया गया है। केस दर्ज होने के बाद बिल्डर फरार है। वहीं, पुलिस केस दर्ज कर अपनी जिम्मेदारी से मुंह मोड़ लिया है। पुलिस की निष्क्रियता से बिल्डर का मनोबल और बढ़ गया है। जानकारी के अनुसार बिल्डर ऋषभ सिन्हा पर पटना के श्रीकृष्णा पुरी, बुद्धा कॉलोनी में भी 2019-20 में केस दर्ज हुआ था। लेकिन इस मामले में भी पुलिस ने कोई सख्त कार्रवाई नहीं की। अब बिल्डर ऋषभ ने रूपसपुर इलाके में एक शख्स पर जानलेवा हमला किया।

रूपसपुर पुलिस की सुस्ती से बिल्डर मस्त 

घटना सात अप्रैल की है जब छठ पूजा का प्रसाद लेकर लौट रहे युवक पर बिल्डर ने अपने बाउंसरों के साथ मिलकर जानलेवा हमला किया था। पीड़ित शुभम कुमार ने रूपसपुर थाने में दिये आवेदन में बताया था कि रविवार शाम घाट से छठ का प्रसाद ले घर लौट रहा था, तभी यूथ होम्स डेवलपर्स का निदेशक ऋषभ सिन्हा अपने बाउंसरो के साथ रुकनपुरा कि तरफ जा रहा था। इस बीच छोटे से विवाद में ऋषभ सिन्हा और उसके सभी हथियार बंद बाउंसरों ने शुभम कुमार पर जानलेवा हमला कर दिया। शुभम कुमार के मुताबिक सभी बाउंसर हथियार और लाठी डंडे से लैस थे। इस घटनाक्रम में शुभम कुमार गंभीर रूप से घायल हो गया। इतना ही  मारपीट करने के बाद भी उनका जी नहीं भरा तो पीड़ित युवक को गाड़ी में उठाकर ले जाने का प्रयास किया, लेकिन वहां मौजूद लोगों के हस्तक्षेप के कारण आरोपी नाकाम रहे हैं। भीड़ जुटता देख सभी आरोपी मौके से फरार हो गए।  पीड़ित के आवेदन पर रूपसपुर थाने की पुलिस ने धारा 307,504,506,341,323,34 आईपीसी के तहत केस दर्ज किया.रूपसपुर थाने की पुलिस इस केस की जांच में जुटी है। पुलिस का कहना है कि आरोपी फरार है। इधर, पीड़ित शख्स बिल्डर के आतंक से डरा हुआ है। बता दें, यूथ होम्स डेवलपर्स बिहटा इलाके में फर्जी तरीके यानी रेरा से निबंधन लिये बिना प्रोजेक्ट की बिक्री कर रहा था। रेरा ने 2021 में बिल्डर पर सख्त कार्रवाई की थी और कंपनी के बैंक खातों को फ्रीज कर दिया था। साथ ही बिक्री पर रोक लगा रखा है। इसके बाद भी बिल्डर का मनोबल नहीं टूट रहा। 

Find Us on Facebook

Trending News