अगला नंबर किसका ? JDU के भीतर कई नेता हैं नाराज...आज निखिल मंडल ने दिया इस्तीफा, MLA बीमा भारती भी हैं भारी गुस्से में

अगला नंबर किसका ? JDU के भीतर कई नेता हैं नाराज...आज निखिल मंडल ने दिया इस्तीफा, MLA बीमा भारती भी हैं भारी गुस्से में

PATNA: जेडीयू के अंदरखाने सबकुछ ठीक नहीं चल रहा। विधायक बीमा भारती खुलकर मैदान में हैं। सीएम नीतीश की चेतावनी से बेपरवाह बीमा भारती ने साफ कह दिया कि मंत्री लेशी सिंह को मंत्रिमंडल से हटायें. अब जेडीयू के प्रवक्ता भी संगठन का साथ छोड़ रहे। जेडीयू के तेजतर्रार प्रवक्ता निखिल मंडल जो 2020 विस चुनाव में जेडीयू के टिकट पर मधेपुरा से चुनाव लड़े थे, उन्होंने पद से इस्तीफा दे दिया है। निखिल मंडल के परिवार से नीतीश कुमार की काफी नजदीकी रही है। इसके बाद भी उन्होंने प्रवक्ता पद से इस्तीफा दे दिया है। हालांकि निखिल मंडल ने निजी कारणों से इस्तीफे की बात कही है। लेकिन अंदरखाने मामला कुछ और ही है।

तेजस्वी यादव को डिफेंड करने में असहज हैं जेडीयू प्रवक्ता 

इधर  जेडीयू के प्रवक्ता निखिल मंडल से इस्तीफे के बाद बिहार बीजेपी जेडीयू पर आक्रमक हो गई है। बिहार बीजेपी प्रवक्ता डॉ. निखिल आनंद ने जेडीयू पर तंज कसते हुए कहा कि राजनीतिक सफलता के लिए किसी भी लाइन में लगकर, किसी का भी झोला- झंडा उठाने की बजाय सड़क पर संघर्ष करना ही पुरुषार्थ है। पहले प्रो० सुहेली मेहता फिर डॉ० अजय आलोक और अब निखिल मंडल. क्या नीतीश कुमार, तेजस्वी यादव और महागठबंधन को डिफेंड करने में जदयू के सबसे बेहतरीन प्रवक्ता भी असहज महसूस करने लगे हैं?

एक-एक कर अलग रहे जेडीय़ू प्रवक्ता 

बता दें, जेडीयू के प्रवक्ता एक-एक कर अलग हो रहे हैं. पहले सुहेली मेहता साइड हो गईं,फिर अजय आलोक को हटाया गया. अब निखिल मंडल ने पद से इस्तीफा दे दिया है। बताया जाता है कि जेडीयू के कई अन्य नेता भी कतार में हैं. यह भी कहा जा रहा है कि इस महीने के अंत तक संगठन से जुड़े कुछ अन्य नेता भी इस्तीफा कर सकते हैं. 

बीमा भारती पीछे हटने को तैयार नहीं 

पूर्व मंत्री और जदयू विधायक बीमा भारती ने कहा है कि लेशी सिंह के बारे में हम जो कहे थे उस बयान पर कायम हैं। मीडिया में बयान देने के बाद हमारी तबीयत खराब हो गयी थी। अस्पताल में भर्ती थे। घर आई तो पता चला की लेशी सिंह ने मेरे खिलाफ पांच करोड़ का नोटिस भेजा है। बीमा भारती ने कहा कि एक मामले में लेशी सिंह के खिलाफ साक्ष्य भी है और कोर्ट में केस भी किया हुआ है। फिर भी वह मंत्री बनी हुई हैं। बीमा भारती ने मुख्यमंत्री नीतीश कुमार से लेशी सिंह को मंत्री पद से हटाने की मांग की। कहा कि हम अतिपिछड़ा और मंडल समाज से आते हैं। इस कारण हमें दबाने की कोशिश लेशी सिंह कर रही हैं। लेकिन, जो गलत है उसके खिलाफ हम आवाज उठाएंगे। 


Find Us on Facebook

Trending News