बेशर्मी की हद : मोतिहारी में पत्नी व साला ने बहन का न्यूड वीडियो किया वायरल, कार्रवाई के लिए तीन दिनों से पुलिस थाने का चक्कर लगा रहा था युवक, जलील होने पर की खुदकुशी

बेशर्मी की हद : मोतिहारी में पत्नी व साला ने बहन का न्यूड वीडियो किया वायरल, कार्रवाई के लिए तीन दिनों से पुलिस थाने का चक्कर लगा रहा था युवक, जलील होने पर की खुदकुशी

मोतिहारी. पुलिस से न्याय नहीं मिलने व पुलिस प्रताड़ना से तंग आकर युवक ने आत्महत्या कर ली है। तीन दिनों बाद युवक का गांव के पास झाड़ी में शव मिला है। मृतक की मा ने डीआईजी और एसपी को आवेदन देकर थाने की सीसीटीवी जांच कर दोषी पर कार्रवाई करते हुए न्याय दिलाने की गुहार लगाई है। मामला मोतिहारी जिला के गोबिंदगंज थाना के भेलानारी गांव का बताया जा रहा है।

भेलानारी गांव के युवक धीरज सिंह का गुरुवार को शव मिला। एक सप्ताह से धीरज बहन का न्यूड वीडियो बनाकर सोशल मीडिया पर वायरल करने वाली अपनी पत्नी और साला पर प्राथमिकी दर्ज कराने के लिए गोबिंदगंज थाना का चक्कर लगा रहा था। मृतक की मा ने गोबिंदगंज पुलिस पर गंभीर आरोप लगाते हुए बताया कि छठ के दिन उसका पुत्र सभी कागजात लेकर गोबिंदगंज गया था। गोबिंदगंज पुलिस ने आरोपी से मिलकर बेटा के आवेदन पर कार्रवाई नहीं करते हुए गाली गलौज करते हुए प्रताड़ित कर थाना से भगा दिया गया। इसके कारण उसका एकलौता पुत्र ने थाना से घर वापस नहीं लौटा और आत्महत्या कर ली। वहीं गोबिंदगंज इंस्पेक्टर ने मृतक की मां के आरोप को निराधा बताया है।

मोतिहारी में भेलानारी गांव की महिला ने एसपी, डीआईजी को आवेदन देकर न्याय की गुहार लगाई है। पीड़ित महिला ने बताया कि उसकी लड़की के स्नान करने के दौरान उसकी बहू ने न्यूड वीडियो बना लिया। बहू से शादी के बाद से ही परिवार का संबंध अच्छा नहीं है। बहू व बेटे के साला द्वारा मेरी बेटी का न्यूड वीडियो इंस्टाग्राम सहित सोशल मीडिया पर वायरल कर दिया गया है। वायरल वीडियो जब मेरे बेटे (जो प्रदेश में कमाने गया था) उसे मिला तो उसने बाहर से ही गोबिंदगंज थाना पुलिस से वायरल करने वाले पर करवाई की मांग की, लेकिन गोबिंदगंज पुलिस ने पुत्र को घर आकर थाना पर आवेदन देने की बात कही।

पीड़िता ने बताया कि छठ पूजा को लेकर पांच दिन पूर्व मेरा बेटा धीरज घर आया। घर आने के साथ ही बहन की प्रतिष्ठा के साथ खिलवाड़ करने वाले पर कार्रवाई को लेकर गोबिंदगंज थाना का दौड़ लगाने लगा। पुलिस द्वारा मोबाइल का सॉफ्ट कॉपी सहित कागजात की मांग की गयी। उसके पुत्र द्वारा न्यूड वीडियो वायरल करने के सभी सबूत दिये गये। उसके बाद छठ के दिन उसका पुत्र गांव के लोगों के साथ वीडियो वायरल करने वाले पर प्राथमिकी दर्ज करने के लिए गया था। गोबिंदगंज पुलिस ने आरोपी के साथ मिलकर मेरे पुत्र को गाली गलौज कर थाना से भागा दिया। मेरा पुत्र न्याय नहीं मिलने व बहन की प्रतिष्ठा के कारण मानसिक रूप से डिस्टर्ब होने के कारण थाना से घर नहीं लौटा। तीन दिनों बाद उसका झड़ी में शव बरामद किया गया है। महिला ने बताया कि मेरा पुत्र ने वीडियो वायरल करने वाले पर करवाई नहीं होने व पुलिस द्वारा जलील करने के कारण आत्महत्या कर ली है। थाना में लगे सीसीटीवी की जांच व ग्रामीणों से पूछताछ में सच्चाई सामने आ सकती है। मृतक की मां ने वरीय पदाधिकारी को आवेदन देकर जांच कर दोषी के विरुद्ध कठोर करवाई करने और की मांग की है।

इस संबंध में गोबिंदगंज इंस्पेक्टर विजय कुमार ने बताया कि मृतक युवक तीन दिनों से थाना पर बहन का वीडियो वायरल होने की शिकायत लेकर आता था। वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल नहीं हुआ था। वीडियो मृतक युवक की पत्नी व साला के मोबाइल के वाटशॉप से भेजा गया था। दोनों तरफ से कई वीडियो भेजा गया था। वहीं गाली गलौज भी किया गया था। युवक को समझा बुझाकर थाना से घर भेज दिया गया था। दो दिन पूर्व युवक के परिजनों के द्वारा उसके ससुराल वाले पर अपहरण कर हत्या करने का आरोप लगाकर आवेदन दिया गया था। उसके आवेदन पर प्राथमिकी दर्ज कर पुलिस कार्रवाई में जुटी थी कि गुरुवार को उसका शव बरामद हो गया।परिजनों द्वारा पुलिस पर प्रताड़ित करने का लगाया गया आरोप निराधार है।

Find Us on Facebook

Trending News