नीतीश कुमार के रहते हुए अति पिछड़ा समाज की हकमारी नहीं हो सकती, JDU ने कर दिया साफ

नीतीश कुमार के रहते हुए अति पिछड़ा समाज की हकमारी नहीं हो सकती, JDU ने कर दिया साफ

PATNA: ‌नीतीश कुमार के रहते कोई भी अति पिछड़ा वर्ग की हकमारी नही कर सकता है.अति पिछड़ समाज नीतीश कुमार के दिल मे बसते हैं. जद यू के प्रदेश सचिव एवं दरभंगा जिला के संगठन प्रभारी रंजीत कुमार झा ने ये बातें कही. 

हमारे नेता नीतीश कुमार अति पिछड़ों के हक के लिए प्रतिबद्ध

उन्होंने कहा कि अति पिछड़ा वर्ग के हक को लेकर हमारी पार्टी एवं हमारे  नेता बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की प्रतिबद्धता रही है कि समाज में पिछली पंक्ति के शोषित और वंचित समाज के लोगों को विशेष अवसर देकर उन्हें समाज के मुख्यधारा में लाया जाए परंतु भाजपा हाईकोर्ट के इस फैसले पर लगातार भ्रम फैलाने की कोशिश कर रही है। 

रंजीत झा ने कहा कि मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने 2006 में कानून बना कर अतिपिछड़ा वर्ग को आरक्षण देने की व्यवस्था की थी। सुप्रीम कोर्ट और हाईकोर्ट ने उसे सही बताया था, लेकिन महागठबंधन की सरकार बनने के बाद अलग-थलग पड़ चुकी भाजपा अपनी राजनीतिक जमीन खिसकने से घबरा गई है और मुख्यमंत्री श्री नीतीश कुमार जी के संबंध में समाज में भ्रम फैलाने की नापाक कोशिश कर रही है जबकि श्री नीतीश कुमार अतिपिछड़ा वर्ग वर्ग के अधिकार और सम्मान की रक्षा करने के लिए कटिबद्ध है लेकिन आरक्षण विरोधी भाजपा के इस भ्रम फैलाने की कोशिश को अतिपिछड़ा समाज के लोग भली भांति समझ रहे है। झा ने कहा कि भाजपा समाज में भ्रम फैलाकर सांप्रदायिक तनाव पैदा करने की कोशिश कर रही है जिससे सभी वर्ग के लोगों को सचेत रहने की जरूरत है।

Find Us on Facebook

Trending News