रेल से लेकर फ्लाइट तक, आज सबकी जिम्मेदारी संभालेंगी महिलाएं, वूमंस डे पर की गई पहल

रेल से लेकर फ्लाइट तक, आज सबकी जिम्मेदारी संभालेंगी महिलाएं, वूमंस डे पर की गई पहल

पटना। अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस पर दानापुर रेल मंडल द्वारा विशेष पहल की गई है। महिला दिवस को खास बनाते हुए रेलवे ने एक दिन के लिए पटना जंक्शन और गुलजारबाग स्टेशन पर ट्रेनों परिचालन/संचालन पूरी तरह महिलाओं को सौंप दी है।

रेलवे अधिकारियों ने बताया कि सभी प्रमुख विभागों में फ्रंट लाइन स्टाफ महिला होंगी। पटना जंक्शन के निदेशक डॉ. नीलेश कुमार ने बताया कि प्लेटफार्म पर टीएक्सआर, टिकट चेकिंग स्टाफ, आरपीएफ एवं प्लेटफार्म संख्या 10 पर स्थित आरआरआई का कार्य भी महिला रेल कर्मी द्वारा किया जाएगा। जंक्शन पर टिकट काउंटर पर भी महिला रेल कर्मी होंगी। पार्सल में बुकिंग की जिम्मेवारी भी महिला को सौंपा जाएगा।

बक्सर तक ट्रेन भी लेकर जाएंगी महिलाएं

दानापुर रेल मंडल ने इसके साथ ट्रेन चलाने की जिम्मेदारी भी महिलाओं को दी है। बताया गया कि महिला सशक्तीकरण का संदेश यात्रियों और आम जनमानस में देने के लिए पटना जंक्शन से बक्सर तक एक ट्रेन का परिचालन भी महिला रेल कर्मी से कराया जाएगा।गाड़ी सं. 03203/063225 मेमू, को जंक्शन से दोपहर 12/35 बजे पंडित दीन दयाल उपाध्याय जंक्शन के लिए महिला लोको पायलट रिचा कुमारी एवं गार्ड नेहा कुमारी ड्यूटी पर रहेंगी। वहीं, जंक्शन के सभी प्रमुख विभाग में सिग्नल एवं टेलीकॉम के अलावा दूसरे विभाग भी महिला रेल कर्मियों के हवाले होगा।

महिला रेल कर्मी का होगा सम्मान
 दानापुर रेल मंडल के द्वारा 10 महिला कर्मियों को महिला नेतृत्व के लिए सम्मानित किया जाएगा। कोरोना के काल में रेल में अपने अतुलनीय योगदान के लिए 8 मार्च को इन महिलाओं को सम्मानित किया जाएगा। सम्मानित होने वाली महिला रेल कर्मियों में डॉक्टर जे. राय, डॉक्टर सीमा कुमारी, डॉ. नीलम सिन्हा, ताप्ती रॉय, पुष्प लता, सीमा कुमारी, राजमणि देवी, सांझल मरांडी, कंचन कुमारी और अंजली कुमारी शामिल है। इन सभी महिलाओं को कोरोना से लड़ाई में योगदान के लिए पूर्व मध्य रेल की ओर से सम्मानित किया जाएगा। ऐसा रेल बोर्ड के निर्देश पर किया जा रहा है।

पटना एयरपोर्ट पर फ्लाइट को कंट्रोल करेंगी महिलाएं

महिला दिवस पर सोमवार को पटना एयरपोर्ट के एटीसी (एयर ट्रैफिक कंट्रोल) और सीएनएस (कम्यूनिकेशन, नेवीगेशन व सर्विलांस) सिस्टम की कमान महिलाएं संभालेंगी. हालांकि, महिला अफसरों व कर्मियों की संख्या सीमित होने के कारण इस वर्ष तीनों शिफ्टों के बजाय दोपहर 1:30 बजे से शाम 7:30 बजे तक के शिफ्ट में ही उन्हें यह कमान दी जायेगी. इस दौरान एटीसी टावर में तीन और सीएनएस में तीन महिला अधिकारी तैनात रहेंगी, जिनके हाथ में लैंड व उड़ने वाले विमानों का नियंत्रण होगा.

Find Us on Facebook

Trending News