भारत को G 20 की अध्यक्षता मिलने पर खुशी की लहर, जगमग हुआ विश्व का सबसे ऊंचा केसरिया बौद्ध स्तूप

भारत को G 20 की अध्यक्षता मिलने पर खुशी की लहर, जगमग हुआ विश्व का सबसे ऊंचा केसरिया बौद्ध स्तूप

MOTIHARI : G 20 का नेतृत्व करने के उपलब्धि मिलने पर खुशी की लहर पूर्वी चम्पारण पहूंची है। इस खुशी को मनाने के लिए केन्द्रीय सांस्कृतिक मंत्रालय ने देश के एक सौ ऐतिहासिक स्थलों को रौशनी से जगमग करने की घोषणा किया है। ऐतिहासिक स्थलों में एक पूर्वी चम्पारण का बौद्ध स्तूप भी शामिल है। पूर्वी चम्पारण के केसरिया नगर पंचायत में विश्व का सबसे ऊंचे बौद्ध स्तूप है,जिसे लाईटों से सजाया गया है। विश्व के सबसे उच्चे बौद्ध स्तूप के दर्शन के लिए देश विदेश के पर्यटक यहां आते है।

 विश्व के मानचित्र पर प्रसिद्ध केसरिया का बौद्ध स्तूप देउरा नाम से प्रसिद्ध है,जिसके विकास की स्थानीय लोग गुहार लगाते है। स्थानीय केसरिया के निवासी भैरव शंकर गिरी बताते है कि आज ऐतिहासिक दिन है। आज से G 20 देशों का नेतृत्व भारत करेगा। यह गर्व और खुशी की बात है। इस अवसर पर केसरिया के बौद्ध स्तूप को स्थान मिला है जो हमे गौरवान्वित करने वाली है।

 साथ ही कहा कि केसरिया का विकास नहीं हो सका है,जिसकी जरुरत है। वहीं उत्तर प्रदेश के कुशीनगर से आये यात्री आजाद खान का कहना है कि केसरिया का बौद्ध स्तूप विश्व का सबसे ऊंचा स्तूप है। जिसे देखने के लिए देश विदेश के यात्री  धर्मावलम्बी आते है।


Find Us on Facebook

Trending News